Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

रोहित शर्मा (87) और शिखर धवन (66) के शानदार अर्धशतकों तथा उनके बीच 154 रन की जबरदस्त साझेदारी के बाद चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप यादव (45 रन पर चार विकेट) के लाजवाब प्रदर्शन से विराट कोहली की टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड को दूसरे वनडे में शनिवार को 90 रन से पीट कर पांच मैचों की सीरीज में 2-0 की बढ़त बना ली। टीम इंडिया ने इस तरह 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस के दिन पहली बार वनडे जीतकर देश को बेहतरीन तोहफा दे दिया। भारत का संविधान 26 जनवरी 1950 को लागू हुआ था और उसके बाद से भारत ने कभी 26 जनवरी को वनडे मैच नहीं जीता था। लगातार इतिहास के नए अध्याय रच रही कप्तान विराट कोहली की सेना ने अब 26 जनवरी को को गणतंत्र दिवस के दिन वनडे जीतने का इतिहास रच दिया।

भारत ने शीर्ष क्रम के अपने सभी बल्लेबाजों रोहित शर्मा 87, शिखर धवन 66, विराट कोहली 43, अंबाटी रायुडू 47, महेंद्र सिंह धोनी नाबाद 48 और केदार जाधव नाबाद 22 के शानदार प्रदर्शन से 50 ओवर में चार विकेट पर 324 रन का मजबूत स्कोर बनाया और न्यूजीलैंड को 40.2 ओवर में 234 रन पर निपटा दिया। भारत ने सीरीज का पहला मैच नेपियर में आठ विकेट से जीता था।
भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। रोहित और शिखर ने 25.2 ओवर पहले विकेट के लिए 154 रन जोड़कर अपने कप्तान के फैसले को सही साबित कर दिया। पिछले मैच में सस्ते में आउट होने वाले रोहित ने एक बार फिर अपनी क्लास दिखते हुए 96 गेंदों में नौ चौकों और तीन छक्कों की मदद से 87 रन ठोके।
शिखर ने लगातार दूसरे मैच में अर्धशतक बनाया। पिछले मैच में नाबाद अर्धशतक बनाने वाले शिखर ने 67 गेंदों पर 66 रन में नौ चौके लगाए। शिखर को ट्रेंट बोल्ट ने विकेट के पीछे टॉम लाथम के हाथों कैच कराया। रोहित जब अपने शतक से 13 रन दूर थे कि लोकी फर्ग्युसन ने रोहित को कोलिन डी ग्रैंडहोम के हाथों कैच करा दिया। भारत का दूसरा विकेट 172 के स्कोर पर गिरा।
कप्तान विराट ने 45 गेंदों में पांच चौकों की मदद से 43 रन की पारी खेली लेकिन लगातार दूसरे मैच में अर्धशतक बनाने से चूक गए। वैसे यह लगातार तीसरा मैच है जिसमें विराट अर्धशतक से दूर रह गए। रायुडू ने अपनी उपयोगिता साबित करते हुए 49 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के के सहारे 47 रन बनाये। विराट को बोल्ट और रायुडू को फर्ग्युसन ने आउट किया।
भारत का चौथा विकेट 271 के स्कोर पर गिरा। धोनी और जाधव ने पांचवें विकेट के लिए 53 रन की अविजित साझेदारी कर भारत को 50 ओवर में 324 तक पहुंचा दिया। धोनी ने 33 गेंदों पर नाबाद 48 रन में पांच चौके और एक छक्का लगाया जबकि जाधव ने 10 गेंदों पर नाबाद 22 रन में तीन चौके और एक छक्का लगाया। न्यूजीलैंड की तरफ से बोल्ट ने 10 ओवर में 61 रन पर दो विकेट और फर्ग्युसन ने 10 ओवर में 81 रन लुटाकर दो विकेट लिए। न्यूजीलैंड की बल्लेबाजी एक बार फिर भारतीय गेंदबाजों के सामने विफल रही।

भारत ने मेजबान टीम को जो लक्ष्य दिया वह अंत में कीवी टीम के लिए काफी बड़ा साबित हुआ। डग ब्रेसवेल ने एकतरफा संघर्ष करते हुए अपना पहला अर्धशतक बनाया। न्यूजीलैंड को अपने शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों की नाकामी एक बार फिर भारी पड़ी। न्यूजीलैंड ने अपने आठ विकेट मात्र 166 रन पर गंवा दिए थे लेकिन ब्रेसवेल (57) ने शानदार अर्धशतक बनाकर अपनी टीम की हार को कुछ सम्मान दिया। नेपियर में चार विकेट लेने वाले चाइनामैन गेंदबाज कुलदीप ने इस मैच में भी बेहतरीन गेंदबाजी की 10 ओवर में 45 रन देकर चार विकेट हासिल किये।

कुलदीप ने कीवी टीम के मध्य और निचले मध्य क्रम को ध्वस्त किया। कुलदीप ने टॉम लाथम 34, हेनरी निकोल्स 28, कॉलिन ग्रैंडहोम 3 और ईश सोढी 0 के विकेट लिए। भुवनेश्वर कुमार ने मार्टिन गुप्तिल (15) को पवेलियन की राह दिखाई जबकि मोहम्मद शमी ने न्यूजीलैंड के खतरनाक बल्लेबाज और कप्तान केन विलियम्सन (20) को बोल्ड कर चलता कर दिया।

लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने कॉलिन मुनरो (31) को पगबाधा किया जबकि पार्ट टाइम ऑफ स्पिनर केदार जाधव ने रॉस टेलर (22) को महेंद्र सिंह धोनी के हाथों स्टंप करा दिया। भुवनेश्वर ने ब्रेसवेल की पारी का अंत किया जबकि चहल ने फर्ग्युसन को आउट कर कीवी पारी समेट दी। ट्रेंट बोल्ट 10 रन पर नाबाद रहे। ब्रेसवेल ने 46 गेंदों पर 57 रन में पांच चौके और तीन छक्के लगाए।

कुलदीप के चार विकेट के अलावा भुवनेश्वर ने 42 रन पर दो विकेट, चहल ने 52 रन पर दो विकेट, शमी ने 43 रन पर एक विकेट और जाधव ने 35 रन पर एक विकेट लिया। रोहित को प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया।

-साभार, ईएनसी टाईम्स

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.