Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मुंबई का इंटरनेशनल एयरपोर्ट उस वक्त राजनीति का मंच बन गया, जिस वक्त वहां पर कुछ नमाजी नमाज अदा कर रहे थे। अब इसको लेकर बवाल पैदा हो गया। दरअसल खबरों की माने तो एक यात्री का आरोप है कि कुछ मुस्लिम यात्री एयरपोर्ट में बीच रास्ते ही नमाज पढ़ने बैठ गए, जिससे यात्रियों को आने-जाने में असुविधा होने लगी। इसलिए कुछ यात्रियों ने इसका विरोध किया।

हालांकि, एयरपोर्ट पर नमाज के लिए विशेष रूम की भी व्यवस्था है। नमाज अदा करने वाले यात्रियों के पास सीआईएसएफ के जवान तैनात थे और वे अन्य यात्रियों को नमाजी यात्रियों से दूर हो कर आने-जाने के लिए कह रहे थे। इसी मामले में भाजपा नेता विनीत गोयनका ने इस पर आपत्ति उठाई है और वह एयरपोर्ट पर ही धरने पर बैठ गए हैं।

इसके अलावा गोयनका का यह भी आरोप है कि वहां पर तैनात सीआईएसएफ जवान एचएस रावत ने बदतमीजी की। गोयनका का कहना है कि एयरपोर्ट पर जब नमाज अदा करने के लिए अलग से रूम की व्यवस्था है तो किसी को बीच रास्ते में नमाज़ अदा करने क्यों दे रहे हो? अगर इन्हें अनुमति दे रहे हो तो मुझे भी पूजा की अनुमति दो?

गोयनका का यह भी आरोप है कि सीआईएसएफ जवान ने दुर्व्यवहार किया और हिंदुओं के प्रति अपमानजनक टिप्पणी की। इसके बाद गोयनका ने एयरपोर्ट पर धरना प्रदर्शन शुरू किया। गोयनका मुंबई से दिल्ली जाने के लिए अपने पत्नी के साथ एयरपोर्ट आए थे। उन्होंने रात 8 बजे से साढ़े 10 बजे तक धरना दिया। इसके चलते उनकी फ्लाइट भी छूट गई।

गोयनका का आरोप है कि उनकी पत्नी ने जब धरना प्रदर्शन की तस्वीर को कैमरे में कैद करना चाहा तो जवान ने कैमरा छीनने की कोशिश की। गोयनका का कहना है कि उन्होंने  इसके खिलाफ़ शिकायत करते हुए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह को भी खत लिखा है। साथ ही सीआईएसएफ के स्थानीय प्रमुख को भी शिकायती आवेदन दे दिया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.