Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

लोकसभा चुनाव से पहले नेताओं का दल बदलने का दौर भी शुरु हो गया है। इसी के चलते बसपा के तीन पूर्व विधायक डॉ. धर्मपाल सिंह, भगवान सिंह कुशवाहा, और ठाकुर सूरजपाल सिंह ने बसपा का साथ छोड़कर कांग्रेस का दामन थाम लिया है। सभी नेताओं ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर की मौजूदगी में कांग्रेस पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।

वहीं प्रेसवार्ता में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने बताया कि आगरा के लोग काफी समय मांग कर रहे थे कि मै आगरा से चुनाव के लिये पार्टी से उम्मीदवार बनूं। यह मेरी जन्मभूमि है। लोगों ने मुझे बुलाया है, इसलिये मै आया हूं। वहीं मुरादाबाद सीट छोड़ने पर उन्होंने कहा कि मुझे सिर्फ 14 दिन पहले वहां से टिकट मिली थी। मुझे वहां के रास्ते भी ठीक से नहीं पता थे। साथ ही फतेहपुर सीकरी को लेकर उन्होने कहा कि वहां की समस्याओं को सुलझाने के वह और उनकी टीम पूरी तरह से तैयार है।

प्रदेश अध्यक्ष के तौर पर राज बब्बर के लिए यह एक बड़ी कामयाबी के रुप में देखा जा सकता है। क्योंकि जिस तरह से यूपी में बीजेपी के सामने सपा, बसपा और आरएलडी का गठबंधन ताल ठोकते नज़र आ रहा है, उस नज़रिये से कांग्रेस के लिए यह ज़रुर फायदे का सौदा साबित हो सकता है।

भले ही प्रियंका गांधी पूर्वी यूपी में ताबड़तोड़ बैठकी कर रही हों, कार्यकर्ताओं में जान फूंक रही हो लेकिन जिस तरह से सपा और बसपा का पिछले चुनाव में वोटिंग प्रतिशत रहा उससे तो लगता है कि यूपी में बीजेपी बनाम सपा बसपा और आरएलडी के गठबंधन की लड़ाई ही देखने को मिलगी।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.