Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तराखंड के स्कीइंग डेस्टिनेशन औली में 200 करोड़ की शादी के मामले पर हाईकोर्ट ने नाराजगी जताई है। हाईकोर्ट ने सुनवाई के दौरान सख्त रुख अपनाते हुए दोपहर से पहले सफाई के लिए पांच करोड़ रुपये जमा करने को कहा है।

वहीं इवेंट ऑर्गेनाइजर के अधिवक्ता ने न्यायालय को बताया कि उन्हें नगर पालिका ने अनुमति दी है। इसके लिए उन्होंने 30 लाख की धनराशि सरकार के खाते में जमा की है।

इस शाही शादी पर हाईकोर्ट ने पूछा कि औली में शादी की अनुमति किसने दी? क्या वहां हेलीपैड बनाया गया है, कितने पेड़ काटे गए हैं ? पर्यावरण नुकसान के एवज में पांच करोड़ जमा कराए हैं या नहीं?

कोर्ट ने सरकार और बचाव पक्ष से कहा है कि अगर सफाई के लिए रुपये जमा नहीं हुए, तो शादी पर विचार करना पड़ेगा। वर पक्ष वाले वर्तमान में साउथ अफ्रीका और लड़की पक्ष वाले दुबई में रहते हैं।

आपको बता दें कि दुबई के रहने वाले अजय गुप्ता और अतुल गुप्ता के बच्चों की शादी मंगलवार 18 जून से बर्फीले औली क्षेत्र में शुरू हो रही है। शादी में आने वाले मेहमानों के लिए हैलीपेड की भी व्यवस्था की गई है। औली में 18-22 जून तक गुप्ता बंधुओं के बेटों की शादी शादी है। उद्योगपति अजय गुप्ता के बेटे सूर्यकांत की शादी 20 जून और अतुल गुप्ता के बेटे शशांक की शादी 22 जून को है।

गौरतलब है कि प्रवासी गुप्ता बंधुओं के बेटों की औली में शादी को लेकर काशीपुर निवासी और हाईकोर्ट के अधिवक्ता रक्षित जोशी ने एक जनहित याचिका दायर की थी। शादी समारोह में मेहमानों को लाने के लिए करीब 200 हेलिकाप्टरों की व्यवस्था की गई है। जिसके चलते जोशीमठ और औली के पर्यावरण को नुकसान पहुंचने की आशंका जताई जा रही है।

 

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.