Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

New Delhi : कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने आख़िरकार मंगलवार को अपनी पहली कैबिनेट का गठन कर लिया है। कर्नाटक में मुख्यमंत्री पद सँभालने के बाद वह पिछले तीन हफ्तों तक वन मैन कैबिनेट बने हुये थे।

मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने अपनी नई कैबिनेट में अभी फिलहाल 17 विधायकों को शामिल किया है। जिसमें अनुभवी लोगों के साथ साथ कुछ नये चेहरों को भी शामिल किया है। येदियुरप्पा ने मतदाताओं को ध्यान में रखकर अपने मंत्रिमंडल में जातिगत समीकरण को साधने की कोशिश की है। येदियुरप्पा को मिलाकर 17 सदस्यीय मंत्रिमंडल में कम से कम सात विधायक प्रमुख लिंगायत समुदाय के हैं।

इसके अलावा, नए मंत्रिमंडल में तीन वोक्कालिगा (एक अन्य प्रमुख समुदाय), तीन सदस्य अनुसूचित जाति, दो पिछड़ी जाति, एक ब्राह्मण और एक अनुसूचित जनजाति के सदस्य हैं। इनमें से चार विधायक बेंगलुरु से हैं जबकि अन्य कर्नाटक के उत्तरी जिलों के प्रतिनिधि हैं, जहां भाजपा और लिंगायतों का बड़ा जनाधार है।

इसके अलावा भाजपा ने कांग्रेस-जेडीएस की सरकार गिराने में मदद करने वाले बागी विधायकों को भी पुरस्कृत किया है। जिसमे से भाजपा ने बेंगलुरु के युवा विधायक सीएन अश्वत्तनारायण को कैबिनेट में शामिल किया है। आपको बता दें सीएन अश्वत्तनारायण ने कांग्रेस और जद (एस) के बागी विधायकों को मुंबई ले जाने में अहम भूमिका निभाई थी। लिंगायत और जदयू के पूर्व नेता जेसी मधुस्वामी, जिन्होंने विश्वास मत के दौरान भाजपा को जीत दिलाने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी, वह भी येदियुरप्पा के मंत्रिमंडल में शामिल हुये है। मंत्रिमंडल में भाजपा के दिग्गजों में बसवराज बोम्मई, जगदीश शेट्टार और बीबी श्रीरामुलु शामिल हैं। मंत्रिमंडल में दलित नेता प्रभु चव्हाण एक नए चेहरे है। पुरे मंत्रिमंडल में लिंगायत नेता शशिकला जोले एकमात्र महिला हैं।

इन 17-सदस्यीय कैबिनेट को मंगलवार की सुबह 10:30 बजे राज्यपाल वजुभाई वाला द्वारा मंत्रीपद की शपथ दिलाई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने फिलहाल 17 कैबिनेट पदों को खाली छोड़ दिया है। इन खाली पदों पर येदियुरप्पा पिछली गठबंधन सरकार को गिराने में अपनी भूमिका निभाने वाले 15 कांग्रेस-जद (एस) के बागी विधायकों को शामिल करेंगे। जिन्हें पूर्व स्पीकर केआर रमेश कुमार ने आयोग्य घोषित कर दिया था। यह अयोग्य बागी विधायक फिलहाल सुप्रीम कोर्ट में केस लड़ रहें है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.