Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

देश में अब तक सामान्य मानसून रहा है। लेकिन 21 राज्यों में सामान्य और 6 राज्यों में ज्यादा बारिश हुई है। सिर्फ 9 राज्यों में कम बारिश हुई है। वहीं केरल, कर्नाटक और महाराष्ट्र के कई इलाकों में बाढ़ का कहर जारी है। केरल के वायनाड जिले में भूस्खलन से 10 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोग अभी भी गायब हैं।

केरल के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने बाढ़ में मरने वालों के परिजनों को 4 लाख रुपये की सहायता राशि देने का ऐलान किया है। सांसद राहुल गांधी ने अपने लोकसभा क्षेत्र वायनाड पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए आग्रह किया।

केरल और कर्नाटक में 6 लाख से ज्यादा लोग बेघर हो गए हैं, जबकि 2 हजार को राहत शिविर में पहुंचाया गया। वायुसेना ने कर्नाटक में 25 पर्यटक समेत 500 लोगों को एयरलिफ्ट कर बचाया।

वहीं महाराष्ट्र में पुणे संभाग में भारी बारिश और बाढ़ में अब तक 50 लोग की मौत हो गई हैं। प्रशासन ने बताया कि पुणे, सांगली, कोल्हापुर,सतारा और सोलापुर जिले के 584 गांव से करीब साढ़े चार लाख लोगों को रेस्क्यू किया गया। इनके लिए 596 राहत शिविर बनाए गए। बाढ़ के कारण पुणे जिले के 46 गांवों से कनेक्शन टूट चुका है। मौसम विभाग के मुताबिक पांच जिलों पुणे, सांगली, कोल्हापुर, सतारा और सोलापुर में अगले 24 घंटे लगातार बारिश होने की संभावना है।

तमिलनाडु के नीलगिरि जिले में मंगलवार को 140 जगहों पर भूस्खलन हुआ। हालांकि, इससे कोई जनहानि नहीं हुई। मौसम विभाग ने केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु और महाराष्ट्र समेत समुद्र तटीय इलाकों के लिए अलर्ट जारी किया। अरब सागर क्षेत्र में 55 किमी की रफ्तार से हवाएं चलने की संभावना जताई गई। मछुआरों को समुद्र में नहीं जाने की सलाह भी दी गई।

उधर छत्तीसगढ़ के रायगढ़ में केलो नदी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है। जिला प्रशासन ने भारी बारिश के कारण स्कूल की छुट्टी घोषित कर दी। मध्यप्रदेश के मंदसौर में घरों में पानी भर गया। वहीं, हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में बाढ़ के कारण हाईवे पर आवागमन बाधित हो गया।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.