Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

आप के नेता और कवि कुमार विश्वास ने अभी कुछ दिनों पहले उत्तरप्रदेश चुनावों में चर्चा का विषय बने गधे पर एक वीडियो जारी किया था जो काफी वायरल हुआ था। इसके बाद अब कुमार ने कश्मीर,कुलभूषण,करप्शन और केजरीवाल पर जोरदार हमला बोला है।  14 अप्रैल की शाम कुमार विश्वास ने देश के अंदर पनप रही स्थितियों को लेकर अपने ट्वीटर और फेसबुक एकाउंट पर 13 मिनट 11 सेकेंड का एक वीडियो शेयर किया है। जिसे देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि उनके निशाने पर कौन कौन हैं? विश्वास ने वीडियो के माध्यम से दिल्ली में बैठी सरकारों पर जमकर तंज कसा है ।

जय हिंद के साथ वीडियो की शुरुआत करते हुए डॉ कुमार विश्वास ने कहा कि दोस्तों पिछले दो दिनों से सोशल मीडिया पर जवानों के वायरल वीडियो को मैंने देखा, जिसमें जम्मू-कश्मीर में भारत के वीर सैनिकों को वहां के कुछ उग्रवादी पीट रहे हैं और जवानों के साथ गाली गलौज के साथ उन्हें थप्पड़ मार कर उनकी हेलमेट छिन रहे है। जबकि सेना के जवान उस थप्पड़ का जवाब देनें में सक्षम होने के बावजूद चुपचाप रह जाते हैं।  ऐसा इसलिए है क्योंकि भारत के संविधान और मानवाधिकार की बेड़ियों ने उनके पैरों को जकड़ रखा है। उन्होंने सीआरपीएफ जवानों के साथ हुई मारपीट के मामले का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी सवाल खड़े कर पूछा कि ‘राष्ट्रवाद के नाम पर बनी सरकार के रहते जवानों को हाथ लगाने की किसी की हिम्मत कैसे हो गई? उन्हें यह हक किसने दिया? क्या यही मानवाधिकार है?

वीडियो के माध्यम से राजनीति पार्टियों को एक जुट होने का किया आवाहन….

कुमार विश्वास ने अपने इस वीडियो के माध्यम से सभी राजनीतिक पार्टियों को एक जुट होने का आवाहन करते हुए कहा कि आज सभी पार्टियों को अपनी कूटनीति और राजनीति की चिंता है। आज यह वक्त मोदी-मोदी या इंदिरा-इंदिरा,राहुल-राहुल या केजरीवाल-केजरीवाल कहने का नहीं है। क्योंकि आज हम है कल नहीं रहेंगे लेकिन देश था, है और आगे भी रहेगा। यही वक्त विभिन्नता में एकता का है। समय आ गया है कि हम अपने-अपने दलों को दरकिनार कर देश हित में विरोधियों, उग्रवादियों, पाकिस्तानियों के खिलाफ मिलकर खड़े हो जाएँ। आज अगर हमने चुप्पी साध ली तो अपने पूर्वजों की तरह कल हम खुद को भी कोसेंगे कि आज हमनें अपने देश के लिए क्या किया। उन्होने दुष्यंत के एक शेर के माध्यम से कहा,’रहनुमाओं के अदाओं पर फिदा है यह दुनिया इस बहकती हुई दुनिया को संभाल लो यारों।’उन्होंने इसमें जोड़ा कि कौन कहता है आसमान में सुराख नहीं हो सकता एक पत्थर तो तबीयत से उछालो यारों।’

किसानों की दशा को लेकर कसा विश्वास ने तंज….

कुमार विश्वास ने अपने इस वीडियो में किसानों की बदहाली के बारे में भी जिक्र करते हुए कहा कि पिछले तीन सालों में 30 हजार अन्नदाता ने आत्महत्या कर ली। ऐसा नहीं है यह इसी सरकार में हुआ इससे पहले भी हुआ है लेकिन आंकड़ों से खेलना बंद कर हमें इस बारे में ज्यादा सोचने की जरुरत है।  

कुलभूषण पर बोले कुमार ….

कुलभूषण को पाकिस्तान में मिली फांसी की सजा पर कुमार विश्वास ने सरकार के इरादे और कारवाई पर  सवालिया निशान खड़ा कर कहा कि आज हमारे  देश के बेटे को दूसरे देश से उठा लिया जा रहा है और हम सदन में चिल्ला रहे हैं। सदन में चिल्लाने से काम नहीं चलेगा हमें उठना होगा और इसके विरुद्ध लड़ना होगा। उसे याद दिलाना होगा हमारे पास युद्ध भी है और बुध्द भी है, तय हमें करना है कि हमे चुनाव किसका करना है।

सर्जिकल स्ट्राइक पर सलाम

केजरीवाल पर तंज़ कसते हुए कुमार ने कहा कि देश के वीर जवानों ने दुश्मन देश की सीमा में घुस कर आतंकवादियों को मारा। मै उन्हें सलाम करता हूँ। लेकिन कुछ लोग इसका श्रेय लेने में लग गए और कुछ इसे रोकने में और सवाल उठाने में यह गलत है। इसके अलावा हमारे जवानों को ख़राब खाने की शिकायत पर सजा मिलती है। यह किसकी जिम्मेदारी? कौन तय करेगा? सब क्यूँ चुप हो जाते हैं ऐसे मुद्दे पर? इसलिए सब एक साथ आयें अच्छे कामों की सराहना हो और कमियों का आकलन हो। 

कुमार ने दिलाई अटल जी की याद….

कुमार विश्वास ने कहा कि आज हम अमेरिका-अमेरिका चिल्ला रहे हैं, यह वही अमेरिका है जिसने  एपीजे अब्दुल कलाम और अटल बिहारी वाजपेयी  के नेतृत्व में परमाणु विस्फोट के बाद हम पर प्रतिबंध लगाया था।तब अटल जी ने कहा था हम भूखे रह लेंगे लेकिन अपने आत्मसम्मान से समझौता नहीं करेंगे और इसका नतीजा यह हुआ कि आज वह खुद हाथ जोड़कर हमारे पास व्यापार के लिए आ रहा है।

कुमार विश्वास का यह वीडियो बहुत तेज़ी से वायरल हो रहा है। इसको लेकर अलग-अलग आकलन और अनुमान लगाये जा रहे हैं लेकिन इन सब से परे यह एक अच्छी शुरुआत कहें या हिम्मत कहें कि उन्होंने सभी दलों को देश हित में एक होने की अपील करते हुए कुलभूषण,केजरीवाल,कश्मीर हर मुद्दे पर अपनी बातें खुल के रखी हैं।

वीडियों देखे-

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.