Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

पाकिस्तान द्वारा पूर्व नौसेना अधिकारी कुलभूषण जाधव को रॉ का एजेंट मानकर फांसी की सजा सुनाए जाने का पूरे भारत में पुरजोर विरोध चल रहा है। देश भर के नागरिकों, और केंद्र सरकार के अलावा अब ऑल इंडिया रेडियो ने भी कुलभूषण को बचाने के लिए पहल शुरू की है। ऑल इंडिया रेडियो के डायरेक्टर जनरल फैयाज शहरयार ने कहा कि “हम अपने बुलेटिंस में इस बात पर जोर देने की कोशिश रहे हैं कि यह सजा इस्लाम की सभी शिक्षाओं का विरोध करती है। उन्होंने यह भी कहा कि बुलेटिंस में पाकिस्तान के लोगों से अपील की गई है कि वह अपने देश में इस्लाम विरोधी बातें नहीं करें। इसके लिए बलूच इलाके से भी कई संदेश मिले हैं, जिसमें उन्होंने इस आरोप को खारिज करने की अपील की है।”

पाकिस्तान के पुख्ता सबूत में है 102 कट्स

गौरतलब है कि भारत के पूर्व नौसेना अधिकारी कुलभूषण सुधीर जाधव को पिछले सोमवार को पाकिस्तान की एक अदालत ने मौत की सजा सुनाई थी। कुलभूषण को भारत का रॉ एजेंट होने के आरोप में मार्च 2016 में पाकिस्तानी फोर्स ने ब्लूचिस्तान से  गिरफ्तार किया था। वह तभी से उनके गिरफ्त में हैं। पाकिस्तान ने महाराष्ट्र के निवासी कुलभूषण का एक छ: मिनट का वीडियो जारी किया था जिसमें उन्होंने कबूला है कि वे भारत के रॉ एजेंट हैं। हालांकि पाकिस्तान द्वारा जारी की गई वीडियो पर गौर किया जाए तो पता चलता है कि 358 सेंकेड की इस वीडियो में करीब 102 कट्स हैं। ऐसे में 102 कट्स करने के बाद किसी भी वीडियो के रंग-रूप को बदलना कोई बड़ी बात नहीं है। इसके अलावा पाकिस्तान के इस पुख्ता सबूत पर एक और सवाल उठता है कि उसने इस वीडियो की असंपादित सामग्री (रॉ फुटेज) जनता को क्यों नहीं दिखाई…?

ब्लूचिस्तानियों को भड़काने की है साजिश

दरअसल, पाकिस्तान कूलभूषण को ब्लूचिस्तान से पकड़ कर वहां के लोगों के बीच भारत की छवि खराब करने की कोशिश कर रहा है कि भारत ब्लूचिस्तान का हितैषी नहीं बल्कि दुश्मन है और इसलिए वह वहां अपने जासूसों को भेज रहा है। आपको बता दें कि ब्लूचिस्तान नागरिकों की भारत के तरफ बढ़ते लगाव से पाकिस्तान परेशान हो गया है और वो किसी भी कीमत में इस लगाव को जड़ से खत्म करने की कोशिश कर रहा है।

भारत की चेतावनी पर पाक ने कहा दवाब में नहीं आएंगे

भारत के सड़कों से लेकर संसद तक पाकिस्तान के इस रवैये की निंदा की जा रही है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि अगर वह रॉ एजेंट होता तो अपने वैध पहचान के साथ क्यों घूमता क्योंकि एजेंट तो हमेशा अपनी असली पहचान को छुपा के रखते हैं। राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि हम किसी भी कीमत पर कुलभूषण को वापस लेकर आएंगे साथ ही उन्होंने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए आगाह किया है कि अगर वह कुलभूषण की मौत की सजा पर अमल करेगा तो इसे ‘सोच-समझ कर की गई हत्या’ माना जाएगा।

पाकिस्तान ने भारत की चेतावनी को नजरअंदाज करते हुए कहा कि वह किसी के दवाब में नहीं आएगा। भारत के सख्त रवैये पर पाक के पीएम नवाज़ शरीफ और सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि वो जाधव मामले में किसी तरह के दवाब में नहीं आएंगे।

AIR ने कुलभूषण को बचाने के लिए किया खास प्रसारण

भारत ने पाकिस्तान के पुख्ता सबूतों पर तर्क दिया है कि जाधव का ईरान में कारोबार था और पकड़े जाते वक्त वह यात्रा में था। भारत ने कहा है कि पाकिस्तान अभी तक इस बात का जवाब नहीं दे सका है कि जाधव पाकिस्तान कैसे पहुंचा। यात्रा के दौरान बिना ठोस सबूत के गिरफ्तार करने और फांसी की सजा सुनाने पर अब ऑल इंडिया रेडियो ने भी विरोध करने का अपना तरीका निकाला है। एआईआर का विदेश सेवा प्रभाग रोज सात कार्यक्रमों का प्रसारण करता है। ये कार्यक्रम पाकिस्तान और अफगानिस्तान में श्रोताओं को ध्यान में रखकर प्रसारित किए जाते हैं। जो सफर में हो, उसका कत्ल करना इस्लाम में गुनाह होता है और मुसाफिर के साथ अल्लाह की हमदर्दी होती है। पाकिस्तान में श्रोताओं के लिए ऑल इंडिया रेडियो की विशेष सेवाओं में कुलभूषण जाधव के मामले में इसी बात पर जोर दिया जा रहा है।

कुलभूषण मामले में UN नहीं करेगा हस्तक्षेप

हालांकि भारत कुलभूषण को बचाने के लिए इस मामले को अंतराष्ट्रीय कोर्ट में ले जा सकता है लेकिन फिलहाल सयुंक्त राष्ट्र ने इस मामले में हस्तक्षेप करने से इंकार कर दिया है। बुधवार को संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गेटरस के प्रवक्ता  स्टेफेन ड्यूज्रिक ने इस बात की तरफ संकेत देते हुए कहा कि हम इस विशेष मामले की प्रक्रिया में न्याय को परखने की स्थिति में नहीं हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.