Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

महिलाओं के पहनावे को लेकर अक्सर समाज के ठेकेदार महिलाओं पर ऊंगलियां उठाते आए है। महिलाओं पर कभी जींस न पहनने तो कभी उनके छोटे कपड़ों को लेकर ताना दिया जाता है और उन पर पाबंदी लगाई जाती है साथ ही उनको ढंग के कपड़े पहनने की हिदायत दी जाती है। ऐसी ही एक हिदायत पाकिस्तान की संसद में एक मुस्लिम महिला सांसद को उस वक्त मिली जब वह साड़ी पहनकर वहां पहुंची।

दरअसल, MQM सांसद नसरीन जलील साड़ी पहनकर संसद में पहुंची थीं। उनके इस तरह से साड़ी पहनने पर जामियात उलेमा-ए-इस्‍लाम फज्‍ल (JUI-F) के एक सांसद ने उंगली उठाई है। पाकिस्तानी अखबार के अनुसार, JUI-F सांसद मुफ्ती अब्‍दुल सत्‍तार ने साड़ी पहने पर नसरीन जलील को कहा कि उनके जैसी योग्‍य महिला को मुस्‍लिमों के तौर पर उपस्‍थिति बनानी चाहिए।

नसरीन की अध्‍यक्षता वाले मानवाधिकार आयोग के सदस्‍य सत्‍तार ने कहा, ‘इस्‍लाम में महिलाओं को चेहरा, हाथ और पैरों को छोड़ पूरा शरीर ढकना अनिवार्य है। मुफ्ती अब्‍दुल सत्‍तार ने आगे कहा, ‘ऊपरवाले ने आपको यहां तक पहुंचाया है आपको अन्‍य महिलाओं के लिए आदर्श स्‍थापित करना चाहिए।’ 

साड़ी पहनने के लिए एक सांसद द्वारा मिल रही इस नसीहत पर नसरीन जलील ने उन्हें याद दिलाया कि वह 74 वर्षीय महिला हैं जिन्‍होंने हाल में ही मौत को मात दी है। नसरीन ने सांसद सत्‍तार से ही सवाल किया कि आप ही बता दें कि आपके अनुसार महिलाओं को कैसे कपड़े पहनने चाहिए।

बता दें कि इस्‍लाम का हवाला देते हुए मुस्‍लिम महिलाओं के लिए आदर्श स्‍थापित करने को लेकर सांसद ने नसरीन जलील के साड़ी पहनने के मुद्दे को मानवाधिकार पर सीनेट की कार्यकारी आयोग मीटिंग के दौरान उठाया है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.