Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मेडिसिन के लिए साल 2018 के नोबेल पुरस्कार की घोषणा कर दी गई है। इस बार दुनिया का ये सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार पुरस्कार संयुक्त रूप से अमेरिका के जेम्स पी. एलिसन और जापान के तासुकू होंजो को दिया गया है। इन्हें ये पुरस्कार कैंसर थेरपी की खोज के लिए मिला है। दोनों वैज्ञानिकों ने कैंसर के इलाज के लिए ऐसी थेरपी की खोज की है जिसके द्वारा शरीर की कोशिकाओं में इम्यून सिस्टम को कैंसर ट्यूमर से लड़ने के लिए स्ट्रॉन्ग बनाया जा सकेगा।

इन दोनों को नोबेल पुरस्कार के तहत लगभग 10.1 लाख अमेरिकी डॉलर मिलेंगे। एलीसन और होन्जो को 10 दिसम्बर को स्टॉकहोम में एक औपचारिक समारोह में ये पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। बता दें कि एलिसन टेक्सास विश्वविद्यालय के प्रोफेसर हैं और होन्जो क्योतो विश्वविद्यालय के प्रोफेसर हैं। इन दोनों को 2014 में उनके अनुसंधान के लिए अन्य पुरस्कार दिया जा चुका है।

इस घोषणा के साथ ही साहित्य नोबेल पुरस्कार की घोषणा शुरू कर दी गई है। हालांकि, इस बार साहित्य का नोबेल पुरस्कार नहीं दिए जाने का फैसला किया गया है। पिछले 70 साल में पहली बार ऐसा है कि साहित्य का नोबेल पुरस्कार नहीं दिया जाएगा।

नोबेल एसेंबली ने कहा, ‘जेम्स एलिसन और तासुकु होन्जो को ‘ऋणात्मक प्रतिरक्षा विनियमन के अवरोध से कैंसर थेरेपी की खोज के लिए’ इस सम्मान से नवाजे जाने की घोषणा की गई है। इन दोनों वैज्ञानिकों ने कैंसर के इलाज के लिए ऐसी थेरपी विकसित की है, जिसमें प्रतिरक्षा अवरोधक थेरेपी कुछ कैंसर कोशिकाओं के साथ साथ इम्यून सिस्टम से बने प्रोटीनों को निशाना बनाती है।

बहरहाल, नोबेल पुरस्कारों में दिलचस्पी रखने वालों में इस बात पर चर्चा हो रही है कि प्रत्याशियों की बड़ी संख्या को देखते हुए चिकित्सा, भौतिकी, रसायन, शांति और अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार किन लोगों को दिए जाएंगे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.