Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

नेपाल सरकार ने पतंजलि के 6 उत्पादों के खपत पर तत्काल रोक लगा दी है। पतंजलि आयुर्वेद के छह मेडिकल प्रोडक्ट नेपाल के ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन विभाग के लैब टेस्ट में फेल हो गए। नेपाल के स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस पर कार्रवाई करते हुए पतंजलि से अपने छह उत्पादों को वापस भारत भेजने को कहा। दूसरी तरफ नेपाल सरकार ने भी देशभर में दुकानदारों से इन उत्पादों को ना बेचने की अपील की है।

टेस्ट में फैल होने वाले छह उत्पादों में आवला चूर्ण, त्रिफला चूर्ण, दिव्य गैस हर्र चूर्ण, बाहुची चूर्ण, अदविया चूर्ण और अश्वगंधा शामिल हैं। सूत्रों के अनुसार कुल सात उत्पादों का प्रोडक्ट क्वालिटी टेस्ट किया गया जिसमें महज एक उत्पाद को नेपाल में बेचनी की हरी झंडी मिल सकी है। पतंजलि आयुर्वेद के सूत्र ने कहा कि दवाओं पर रोक नहीं लगायी गई है बल्कि दवाओं के एक खास खेप की बिक्री एवं उपयोग को अभी मना किया गया है जो परीक्षण में विफल रहा।

बता दें कि पतंजलि के उत्पाद नेपाल में काफी लोकप्रिय हैं। हाल ही में नेपाल के दौरे के दौरान, रामदेव ने घोषणा की थी कि वह एक दशक में अरबों रुपये का निवेश नेपाल में करेंगे और 20,000 नौकरियों का निर्माण करेंगे।

Patanjali's 6 products banned in Nepal

इससे पहले भी योग गुरु बाबा रामदेव की कंपनी ‘पतंजलि’ के कई उत्‍पाद उत्‍तराखंड की एक लैब द्वारा किए गए क्‍वालिटी टेस्‍ट में फेल हो गए थे। साल 2013 से 2016 के बीच इकट्ठा किए गए 82 सैम्‍पल्‍स में से 32 उत्‍पाद क्‍वालिटी टेस्‍ट पास नहीं कर सके। पतंजलि का ‘दिव्‍य आंवला जूस’ और ‘शिवलिंगी बीज’ उन उत्‍पादों में शामिल है, जिनकी गुणवत्‍ता मानकों के अनुसार नहीं पाई गई थी। इसके अलावा पिछले महीने सेना की कैंटीन ने भी पतंजलि के आंवला जूस पर प्रतिबंध लगा दिया था। सेना ने यह कार्रवाई पश्चिम बंगाल स्‍वास्‍थ्‍य प्रयोगशाला द्वारा की गई एक गुणवत्‍ता जांच में पतंजलि के उत्‍पाद के फेल होने के बाद की थी।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.