बरेली से हुते हुए अपनी मां के साथ 2 साल की प्यारी सी बच्ची उत्तर प्रदेश के मुरादाबद पहुंच गई। साथ में एक दुधमुहा बच्चा भी था। यहां से तीनों अपने घर जाने की तैयारी कर रहे थे। तभी अचानक मां बेहोश होकर गिर गई। आस पास कोई किसी को संभालने वाला नहीं था। दो साल की बच्ची पहले यहां वहां भटकती रही अचानक उसकी नजर रेलवे स्टेशन पर खड़े आरपीएफ वालों पर पड़ी। वो बच्ची जिसे मदद जैसा शब्द भी नहीं पता वह अपनी मां की जान बचाने के लिए पुलिस वालों को वहां तक लाई जहां उसकी मां बेहोशी की हालत में पड़ी थी।

उत्तर प्रदेश के मुरादाबद के फुटवोअर ब्रिज पर बेहोश महिला को देखकर टीम ने उस पर पानी की फुहार मारी, लेकिन महिला को होश नहीं आया। हालत को गंभीर देखते हुए पुलिस वालों उसे अस्पताल लेकर गए। इस वक्त महिला पूरी तरह से स्वस्थ्य है और तीनों एक साथ हैं।

पूरे मुद्दे पर विस्तार में जानकारी मुहैया कराते हुए आरपीएफ के वरिष्ठ डीसीएस मनोज कुमार ने कहा, कल के दिन 03.07.21 को रेलवे स्टेशन मुरादाबाद का जो बरेली साइड का एफओबी है उसे फुटओवर ब्रिज कहते हैं। उस पर एक महिला बेहोशी की हालत में थी। जब हमारे स्टाफ वहां पर मूव कर रहे थे तो उन्हें वहां एक बच्चा दिखा था जो कि लावारिस सा था जब हमारी टीम उसके पास गई फिर वो बच्चा ऊपर की ओर ले गया जहां उसकी मदर बेहोश पड़ी हुई थी। अपने इशारे से बच्चा ने कुछ बताना चाहा। उस बच्चे की उम्र लगभग दो साल के आस पास रही होगी। महिला के साथ दो बच्चे थे। तुरंत ही महिला के ऊपर पानी की फुहारा दिया गया। उसे फर्स्ट एड के तहत अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बता दें कि महज 2 साल की बच्ची ने अपनी मां की जान बचाई है। वीडियो देखने के बाद हर कोई इस प्यारी बच्ची की तारीफ कर रहा है। वो बच्ची जिसे दुनिया के बारे में कुछ नहीं पता है वह अपनी मां के लिए मदद खोज लाई। आज मां जिंदा है तो वो बच्ची की देन है।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here