Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले में सरयू नदी की बाढ़ और कटान से 50 गांव प्रभावित हैं। नदी का जलस्तर धीरे-धीरे घट रहा है लेकिन नदी अभी भी खतरे के बिंदु से 43 सेंटीमीटर ऊपर बह रही हैं। आधिकारिक सूत्रों ने गुरुवार को बताया कि सरयू नदी खतरे के बिंदु 92.7 30 बदले 93.160 पर बह रही है। नदी का जलस्तर खतरे के बिंदु से 43 सेंटीमीटर ऊपर है। कटान और नदी की बाढ़ से 50 गांव प्रभावित हैं।

कल्याणपुर, भरतपुर, सहजनवा पाठक, रानीपुर, सोनिया सहित कई गांव बाढ़ के पानी में चारों तरफ से घिरे हुए हैं। नदी बिलासपुर में तेजी से कटान कर रही है। कलवारी रामपुर तटबंध पर ठोकर नंबर 3 कटान से क्षतिग्रस्त हो गया हैं। सरयू नदी की बाढ़ से केशवपुर, रामनगर, बाघा नाला, भदोही फूल, डी चांदपुर, सुंदरपुर, जबलपुर, छतौना, कन्हैया पुरवा, खेमराज पुर, पूरे चेतन, पकड़ी सूर्यवंश, मौलाना माझा, मल्हनी, जोगापुर, घोड़ा सहित अन्य कई गांव की फसलें बाढ़ में बर्बाद हो गई हैं।

बाढ़ प्रभावित गांवों में पशुओं के चारे की समस्या खड़ी हो गई है प्रभावित गांवों के किसान पशु चारे के लिए बेहद परेशान हैं। जिलाधिकारी डॉक्टर राजशेखर ने प्रभावित क्षेत्र में राहत और सहायता प्रदान करने का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में मेडिकल कैंप लगाने का भी निर्देश दिया है। बाढ़ खंड कार्य के अधिकारी कटान रोकने के लिए प्रयासरत हैं। ठाकुर तथा बाघा नाला में सरजू नदी सीधे कटान कर रही है।

साभार-ईएनसी टाईम्स

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.