होम देश All 3 Farm Law Repealed: कृषि कानून की वापसी पर क्या कहा...

All 3 Farm Law Repealed: कृषि कानून की वापसी पर क्या कहा देश के नेताओं ने…

All 3 Farm Law Repealed: प्रधानमंत्री Narendra Modi ने शुक्रवार को अपने राष्‍ट्र के नाम संबोधन में कहा कि सरकार तीनों कृषि कानूनों को वापस लेगी। प्रधानमंत्री के इस फैसले पर कई लोगों ने खुशी जताई है और इसको किसानों की जीत बता रहे हैं। वहीं इस पर प्रमुख विपक्षी दल कांग्रेस (Congress) ने कहा है कि टूट गया अभिमान, जीत गया मेरे देश का किसान। कांग्रेस पार्टी की तरफ से ट्वीट कर कहा गया कि केंद्र सरकार (Central Government) अभिमान में थी उसका अभिमान टूट गया। यह किसानों की जीत है। तो चलिए PM मोदी के फैसले के बाद हमारे देश के प्रमुख राजनेताओं ने इस पर क्‍या टिप्‍पणी की वो आपको बताते हैं।

पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) ने ट्वीट कर इस फैसले पर कहा, ”3 काले कृषि कानूनों को निरस्त करने का निर्णय पंजाब में किसानों द्वारा शुरू किए गए लोगों के सबसे लंबे शांतिपूर्ण संघर्ष की जीत है। अन्नदाता को मेरा सलाम।”

कृषि कानूनों के वापस लेने के फैसले पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा, ”आज प्रकाश दिवस के दिन कितनी बड़ी ख़ुशख़बरी मिली। तीनों क़ानून रद्द। 700 से ज़्यादा किसान शहीद हो गए। उनकी शहादत अमर रहेगी। आने वाली पीढ़ियाँ याद रखेंगी कि किस तरह इस देश के किसानों ने अपनी जान की बाज़ी लगाकर किसानी और किसानों को बचाया था। मेरे देश के किसानों को मेरा नमन।”

प्रधानमंत्री Narendra Modi की घोषणा पर AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने एक टीवी चैनल से बात करते हुए कहा, ”सरकार ने कृषि क़ानूनों को रद्द करने का फ़ैसला देरी से लिया है, यह किसान आंदोलन और किसानों की सफलता है। वो दिन भी दूर नहीं है, जब मोदी सरकार CAA का क़ानून भी वापस लेगी। ये सरकार डरती है जब जनता सड़क पर उतरती है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों के मुखर विरोधी पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने कृषि कानूनों के वापस लेने के फैसले पर ट्वीट कर कहा, ”हर एक किसान को मेरी हार्दिक बधाई, जो लगातार संघर्ष करते रहे और उस क्रूरता से विचलित नहीं हुए, जिसके साथ BJP ने आपके साथ व्यवहार किया। यह आपकी जीत है। इस लड़ाई में अपने प्रियजनों को खोने वाले सभी लोगों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है।”

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) ने कहा, ”गांधीवादी आंदोलन ने एक बार फिर अपनी ताक़त दिखाई है। केंद्र सरकार को तीन काले क़ानूनों को वापस लेने पर बाध्य करने के लिए देश के‌ किसानों को बधाई। यह किसानों की ही नहीं, अन्याय के खिलाफ लोकतंत्र की जीत है। #FarmLaws

राजस्थान के मुख्‍यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कृषि कानूनों के वापस लेने के फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया, ”तीनों काले कृषि कानूनों की वापसी की घोषणा लोकतंत्र की जीत एवं मोदी सरकार के अहंकार की हार है। यह पिछले एक साल से आंदोलनरत किसानों के धैर्य की जीत है। देश कभी नहीं भूल सकता कि मोदी सरकार की अदूरदर्शिता एवं अभिमान के कारण सैकड़ों किसानों को अपनी जान गंवानी पड़ी है।”

एनसीपी नेता और महाराष्‍ट्र के उप-मुख्‍यमंत्री अजित पवार (Ajit Pawar) ने इस फैसले पर कहा, ”तीन कृषि कानूनों को निरस्त करने का निर्णय लेने के लिए धन्यवाद माननीय पीएम मोदी जी। साथ ही कृषि जिंसों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य प्रदान करने वाले कानून की मांग को जल्द ही स्वीकार किया जाए। ”

तमिलनाडु (Tamil Nadu) के मुख्यमंत्री एम॰ के॰ स्टालिन (M. K. Stalin) ने कृषि कानूनों के वापस लेने के फैसले पर ट्वीट कर कहा, ”मैं माननीय पीएम मोदी जी के तीन किसान विरोधी कानूनों को निरस्त करने के निर्णय का तहे दिल से स्वागत करता हूं। इतिहास हमें सिखाता है कि लोकतंत्र में लोगों की इच्छाएं प्रबल होती हैं। मैं सभी किसानों को बधाई देता हूं और गांधीवादी तरीकों से इसे हासिल करने के उनके दृढ़ संकल्प को नमन करता हूं।”

कृषि कानूनों के वापस लेने के फैसले पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा, ”पीएम Narendra Modi जी की घोषणा के बारे में जो अद्वितीय है वह यह है कि उन्होंने यह घोषणा करने के लिए ‘गुरु पूरब’ के विशेष दिन को चुना। यह दर्शाता है कि उनके लिए प्रत्येक भारतीय के कल्याण के अलावा और कोई विचार नहीं है। उन्होंने उल्लेखनीय राज्य कौशल दिखाया है।”

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस फैसले को लेकर ट्वीट किया, ”आज प्रधानमंत्री श्री @narendramodi ने किसानों के हित में और उनकी भावनाओं का सम्मान करते हुए तीन कृषि क़ानूनों को वापिस लेने का बड़ा निर्णय लिया है। यह निर्णय किसान कल्याण के लिए प्रधानमंत्रीजी की संवेदनशीलता को प्रकट करता है। मैं प्रधानमंत्रीजी के इस निर्णय का स्वागत करता हूँ।”

यह भी पढ़ें: Prime Minister: कृषि कानूनों पर सरकार का U-Turn, प्रधानमंत्री ने वापस लेने का किया ऐलान

All 3 farm Law Repealed: कांग्रेस ने कहा- टूट गया अभिमान, जीत गया मेरे देश का किसान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

IND vs SA: South Africa की टीम पर आईसीसी ने लगाया जुर्माना, दूसरे वनडे मैच में खिलाड़ियों को मिली सजा

India और South Africa के बीच पार्ल के बोलैंड पार्क में खेले गए दूसरे मैच में साउथ अफ्रीका की टीम ने भारत को हराकर मुकाबले के साथ-साथ सीरीज भी अपने नाम कर लिया। इस मैच में मेजबान टीम को आईसीसी ने बड़ा झटका दे दिया। आईसीसी ने साउथ अफ्रीका पर जुर्माना ठोक दिया है। स्लो ओवर रेट के कारण साउथ अफ्रीका की टीम पर आईसीसी ने जुर्माना लगाया है। तय समय के अंदर टीम के गेंदबाज निर्धारित 50 ओवर नहीं फेंक पाए थे। ऐसे में खिलाड़ियों पर 20-20 फीसदी मैच फीस का जुर्माना लगाया है।

APN News Live Updates: Election Commission ने 5 राज्यों में चुनावी रैली, रोड शो और जुलूस पर पाबंदी को एक हफ्ते के लिए बढ़ाया,...

APN News Live Updates: उत्तर प्रदेश में शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ,उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने लखनऊ में पार्टी कार्यालय से चुनावी अभियान रथ को झंडी दिखाकर रवाना किया।

Bollywood News Updates: ‘गहराइयां’ में दीपिका पादुकोण के किसिंग सीन ने बटोरी सुर्खियां, पढ़ें Entertainment से जुड़ी सभी खबरें

Bollywood News Updates: बॅालीवुड अभिनेत्री दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) इन दिनों अपनी फिल्म गहराइयां (Gehraiyaan) को लेकर चर्चा में बनी हुई हैं

Free Fire January 22 Redeem Codes को ऐसे करें हासिल

Free Fire January 22 Redeem Codes: फ्री फायर भारत के सबसे लोकप्रिय गेम में से एक है। इसकी लोकप्रियता का अंदाजा इसी...