Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने अपने मिशन बंगाल की शुरुआत कर दी है। स्वाइन फ्लू की बीमारी से उभर कर लौटे पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने बंगाल के मालदा में चुनावी जनसभा को संबोधित किया। अमित शाह के इस दौरे पर जमकर विवाद भी हो रहा है। शाह के दौरे का आज दूसरा दिन है, जिसके तहत उन्हें झारग्राम में रैली करनी थी, लेकिन हेलिकॉप्टर लैंडिंग की परमिशन नहीं मिलने के चलते रैली रद्द करनी पड़ी है।

मालदा की तरह ही अब झारग्राम में भी अमित शाह के हेलिकॉप्टर को उतारने की इजाजत नहीं मिली। ये लगातार दूसरी बार है जब शाह के हेलिकॉप्टर को लैंडिंग की इजाजत नहीं मिली है, इससे पहले मालदा में भी ऐसा ही हुआ था। झारग्राम की जिलाधिकारी ने भारतीय जनता पार्टी को हेलिकॉप्टर उतारने की इजाजत नहीं दी है, जिसकी वजह से पार्टी नेता रातभर डीएम को मनाते नजर आए। परमिशन ना मिलने के बाद अब बीजेपी ने डीएम ऑफिस के बाहर प्रदर्शन करने की ठानी। हालांकि, अब रैली रद्द करने का फैसला किया गया है।

महिला जिलाधिकारी होने के चलते पार्टी की ओर से महिला मोर्चा को आगे किया गया। महिला मोर्चा की ओर से डीएम ऑफिस के बाहर प्रदर्शन किया जाएगा। गौरतलब है कि अमित शाह के हेलिकॉप्टर को पहले मालदा में भी उतारने की परमिशन नहीं मिली थी, जिसके चलते अंतिम समय में एक निजी होटल के ग्राउंड में हेलिकॉप्टर को उतारा गया।

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार को मालदा रैली में राज्य की ममता बनर्जी सरकार पर जमकर हमला बोला। यहां उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी राज्य से टीएमसी सरकार को उखाड़ कर ही दम लेगी। अमित शाह ने यहां हेलिकॉप्टर विवाद को लेकर भी ममता बनर्जी पर निशाना साधा था। अपने संबोधन में अमित शाह ने कहा, ‘मेरे हेलिकॉप्टर को उतारने के लिए परमिशन नहीं दी गई, अगर नहीं मिली तो क्या हम हेलिकॉप्टर से ही रैली करेंगे, मार्च करेंगे। यहां शाह ने कहा कि एक बार ममता सरकार को हटा, कमल खिला दो तो किसी को सिंडिकेंट टैक्स नहीं देना पड़ेगा।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.