आज नोटबंदी हुए पूरा एक साल बीत गया और इस सालगिरह को हर राजनीतिक पार्टियां अपने अपने हिसाब से मना रही हैं। बीजेपी ‘ऐंटी ब्लैक मनी डे’ मना रही है तो कांग्रेस इसे काला दिवस के रूप में मना रही है। वहीं आम आदमी पार्टी इसे धोखा दिवस के रूप में मना रही है। वहीं इस मौके पर पीएम नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को नोटबंदी के समर्थन के लिए शुक्रिया कहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सुबह एक विडियो के जरिए एक बार फिर नोटबंदी के फायदे गिनाए और देशवासियों को सहयोग के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने इसे ट्वीटर पर पोस्ट किया। विडियो में आंकड़ों के जरिए बताने की कोशिश की गई है कि नोटबंदी अर्थव्यवस्था के लिए किस तरह फायदेमंद साबित हुई। पीएम मोदी ने लोगों से एक सर्वे के जरिए उनकी राय भी जाननी चाही है। उन्होंने कहा कि जनता अपनी राय और प्रतिक्रिया ‘नमो एप’ द्वारा मेरे साथ साझा कर सकती है।

इतना ही नहीं इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी को लेकर एक के बाद एक चार ट्वीट किए। उन्होंने लिखा, ‘भ्रष्टाचार और कालेधन को जड़ से उखाड़ने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कई कदमों का दृढ़तापूर्वक समर्थन करने के लिए मैं भारत के लोगों के आगे सर झुकाता हूं। उन्होंने कहा कि 125 करोड़ भारतीयों ने एक निर्णायक लड़ाई लड़ी और जीत हासिल की। इसके अलावा प्रधानमंत्री ने नोटबंदी पर बनाई गई एक शॉर्ट फिल्म भी अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर की है।

इस शॉर्ट फिल्म में यह भी कहा गया है कि सरकार ने बेनामी संपत्ति को लेकर बड़ी कार्रवाई की, नए टैक्स पेयर्स की संख्या में इजाफा हुआ, ऑनलाइन रिटर्न भरने वालों की संख्या में बढ़ोतरी हुई, कैशलेस इकॉनमी में तेजी आई, डिजिटल ट्रांजैक्शन के आंकड़े अप्रत्याशित रूप से बढ़े, प्रॉपर्टी के दाम में कमी आई और लोन की किश्ते कम हो गईं। विपक्ष के आरोप को झुठलाते हुए विडियो में दावा किया गया है कि नोटबंदी से गरीबों को उनका हक मिला और बेहतर नौकरियां मिलीं। जो पैसा लोगों की तिजोरी में था, वह अर्थव्यवस्था का हिस्सा बन गया।

वहीं दूसरी तरफ आज राहुल गांधी ने भी ट्वीट कर इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए नोटबंदी को त्रासदी बताया है। इसके अलावा राहुल ने अपने ट्वीट में यह भी कहा कि कांग्रेस नोटबंदी से बर्बाद हुए ईमानदार लोगों के साथ खड़ी है। इसके साथ ही उन्होंने नोटबंदी के दौरान वायरल हुए एक तस्वीर के साथ ट्वीट किया। उन्होंने लिखा, ‘एक आंसू भी हुकूमत के लिए खतरा है, तुमने देखा नहीं आंखों का समुंदर होना। इसके अलावा कांग्रेस नोटबंदी को ‘जन विरोधी’ करार देते इसके खिलाफ प्रदर्शन करेंगी। छत्तीसगढ़ में तो इसके खिलाफ कांग्रेस ने एक मैराथान तक आयोजित किया है।

गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने पिछले साल ठीक रात 8 बजे 500 और 1000 के नोट बंद करने के फैसले का ऐलान किया था। जिसके बाद देश में आर्थिक आपातकाल का माहौल बन गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here