होम विदेश Apple ने NSO के खिलाफ दायर किया मुकदमा, कंपनी ने कहा- एनएसओ...

Apple ने NSO के खिलाफ दायर किया मुकदमा, कंपनी ने कहा- एनएसओ हमारे प्रोडक्ट्स का कर रहा गलत इस्तेमाल

Apple ने मंगलवार को फेडरल कोर्ट में इजरायली निगरानी कंपनी एनएसओ ग्रुप पर मुकदमा दायर किया है। इससे पहले फेसबुक ने 2019 में अपने व्हाट्सएप यूजर्स को निशाना बनाने के लिए एनएसओ पर मुकदमा दायर किया था। Apple एनएसओ को किसी भी सॉफ़्टवेयर, सर्विस या डिवाइस का उपयोग करने से स्थायी रूप से रोकना चाहता है। Apple का कहना है कि एनएसओ द्वारा उसके प्रोडक्ट्स का दुरुपयोग किया जा रहा है। इस मामले में कंपनी एनएसओ से हर्जाने की मांग भी कर रही है।

हम सिर्फ सरकारों को स्पाइवेयर बेचते हैं- NSO

वहीं एनएसओ अधिकारियों का कहना है कि वे केवल सरकारों को स्पाइवेयर बेचते हैं। हालांकि पत्रकारों और निजी शोधकर्ताओं द्वारा कई खुलासे से पता चलता है कि सरकारों ने पत्रकारों, एक्टिविस्ट और सरकार का विरोध करने वालों के खिलाफ एनएसओ के पेगासस स्पाइवेयर का इस्तेमाल किया है।

एनएसओ के एक प्रतिनिधि ने मंगलवार को एक बयान में कहा, “एनएसओ ग्रुप की उसके ग्राहकों द्वारा इस्तेमाल की जाने वाली तकनीकों की बदौलत दुनिया भर में हजारों लोगों की जान बचाई गई।” “पीडोफाइल और आतंकवादी स्वतंत्र रूप से तकनीकी सुरक्षित ठिकानों में काम कर सकते हैं, और हम सरकारों को इससे लड़ने के लिए वैध उपकरण प्रदान करते हैं।”

अमेरिकी सरकार ने NSO को किया ब्लैकलिस्ट

इस महीने, बाइडेन प्रशासन ने एनएसओ और एक अन्य इज़राइली निगरानी कंपनी कैंडिरू को ब्लैकलिस्ट कर दिया। जिसका अर्थ है कि कोई भी अमेरिकी संगठन एनएसओ के साथ काम नहीं कर सकता है। गौरतलब है कि एनएसओ के स्पाइवेयर ने अपने सरकारी ग्राहकों को टारगेट के फोन की पूरी जानकारी तक पहुंच दिलवायी। टारगेट के टेक्स्ट मैसेज और ईमेल पढ़ने, फोन कॉल रिकॉर्ड करने, साउंड कैप्चर करने और कैमरों से फुटेज कैप्चर करने और व्यक्ति के ठिकाने का पता लगाने की इजाजत दी।

NSO ने Apple यूजर्स की जासूसी की

2016 में द न्यू यॉर्क टाइम्स में लीक हुए आंतरिक एनएसओ दस्तावेज़ों से पता चला कि कंपनी ने 10 iPhone यूजर्स की जासूसी करने के लिए सरकारी एजेंसियों से $ 650,000 लिये। दस्तावेजों से पता चलता है कि संयुक्त अरब अमीरात और मैक्सिको की सरकारी एजेंसियां ​​एनएसओ के शुरुआती ग्राहकों में से थीं।

यह भी पढ़ें:

अफगानिस्तान में तालिबान ने 50 से अधिक जिलों पर किया कब्जा, सड़क पर महिलाओं की पिटाई, फैशन की इजाजत नहीं, कभी पहनती थी मिनी स्कर्ट्स

तालिबान के कब्जे के बाद देश का नया नाम होगा ‘इस्लामिक अमीरात ऑफ अफगानिस्तान’, शरिया कानून लागू, देश छोड़ रहें हैं अफगानी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Bollywood News Updates: 9 दिसंबर को Vicky Kaushal की दुल्हनिया बनेंगी Katrina Kaif, पढ़ें Entertainment से जुड़ी सभी खबरें

Bollywood News Updates: बॉलीवुड अभिनेता विक्की कौशल (Vicky Kaushal) और कैटरीना कैफ (Katrina Kaif) अपनी शादी को लेकर लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं। दोनों कुछ ही दिन में शादी के बंधन में बंधने वाले हैं। बता दें कि हाल ही में खबर फैली थी कि सलमान खान और उनकी फैमिली राजस्थान में कैटरीना की शादी में शामिल होगी। पर अब India Today की रिपोर्ट के मुताबिक सलमान की बहन अर्पिता ने इन सभी बातों पर विराम लगा दिया है।

कर्नाटक में मिले Omicron वैरिएंट के दो मामले, पढ़ें 2 दिसंबर की सभी बड़ी खबरें

APN News Live Updates: दुनिया भर में Omicron का खौफ देखने को मिल रहा है। साउथ अफ्रीका में लॉकडाउन लगा दिया गया है। ओमिक्रोन वेरिएंट अब 25 देशों में फैल गया है। दरअसल कोविड के नए स्ट्रेन ने अब अमेरिका (US) और यूएई (UAE) में भी दस्तक दे दी है। भारत में भी कुछ मामले पाए जाने की संभावना है। भारत में भी हाई रिस्क वाले देशों से आए 6 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

Supreme Court ने Tripura और Bengal हिंसा को एक जैसा माना, अब हाईकोर्ट में होगी मामले की सुनवाई

Tripura में हुई हिंसा के मामले की सुनवाई गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में हुई। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने त्रिपुरा सरकार के खिलाफ TMC के द्वारा लगाए गए आरोपों को हाईकोर्ट के सामने रखने को कहा है। कोर्ट ने TMC के आरोपों को बंगाल चुनाव के दौरान हुई हिंसा में TMC के खिलाफ लगाए गए आरोपों के समान माना है। बता दें कि TMC और अन्य दलों द्वारा त्रिपुरा हिंसा में जांच को लेकर याचिका दाखिल की गई थी।

Jawad Cyclone Live Tracking: ओडिशा और आंध्र प्रदेश की ओर बढ़ रहा है Jawad, PM मोदी ने चक्रवाती तूफान से निपटने के लिए...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने आज ओडिशा और आंध्र प्रदेश की ओर आने वाले संभावित चक्रवाती तूफान Jawad से निपटने के लिए तैयारियों की समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देश दिए। पीएम ने लोगों को प्रभावित क्षेत्रों से निकालने, आवश्यक सेवाओं को बनाए रखने और व्यवधान के मामलों में तेजी से बहाली के निर्देश दिए हैं।