Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

शिवहर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव प्रचार कर रहे प्रत्याशी को अज्ञात बदमाशों ने गोलियों से छल्ली कर दिया। बदमाश कार्यकर्ताओं के बीच आए और ताबड़तोड़ फायरिंग करने लगें।

चुनाव का रंग लाल होता है। इसका खेल ही खूनी है। चुनाव आते ही हत्याओं का दौर शुरू हो जाता है। बिहार विधानसभा चुनाव 28 अक्टूबर से शुरू हो जाएगा। इस बीच हत्याएं की कई खबरे सामने आचुकी हैं।

राष्ट्रीय जनता दल राष्ट्रवादी के प्रत्याशी

बिहार के शिवहर जिले के शिवहर विधानसभा क्षेत्र से राष्ट्रीय जनता दल राष्ट्रवादी के प्रत्याशी श्रीनारायण सिंह को गोलियों से भून दिया गया है। घटना शनिवार शाम की है। श्रीनारायण सिंह चुनाव प्रचार करने के लिए जनता के बीच गए थे इसी दौरान कुछ अज्ञात लोग कार्यकर्ता के रूप में आए और श्रीनारायण को गोलियों से भून कर छल्ली कर दिया।

हाथसर गांव में चुनाव प्रचार

वहीं इस पूरे मसले पर पुलिस का कहना है कि, “श्रीनारायण सिंह हाथसर गांव में चुनाव प्रचार करने गए थे। इसी दौरान दो बाइक पर सवार चार हमलावरों ने उन पर गोली चला दी। अचानक हुई फायरिंग से भगदड़ मच गई। सीने में गोली लगने से श्रीनारायण सिंह मौके पर ही खून से लथपथ होकर गिर पड़े। ”

रास्ते में श्रीनारायण सिंह मौत हो गई।

मौके पर मौजूद कार्यकर्ताओं ने उन्हें फौरन शिवहर सदर अस्पताल पहुंचाया जहां पर प्राथमिक इलाज के बाद डॉक्टरों ने उन्हें सीतामढ़ी रेफर कर दिया। लेकिन अस्पताल ले जाते समय रास्ते में उनकी मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है और इस मामले की जांच में जुट गई है।

आरोपी की भीड़ ने की हत्या

हत्या के बाद भाग रहे आरोपियों को भीड़ ने पकड़ लिया जिसकी पीट-पीट कर हत्या कर दी।  श्रीनारायण सिंह की मौत की खबर से समर्थकों में आक्रोश फैला हुआ है।

श्रीनारायण सिंह के खिलाफ 20 आपराधिक मामले

बताया जा रहा है कि डुमरी कटसरी प्रखंड के रहने वाले श्रीनारायण सिंह का आपराधिक इतिहास रहा है । उन पर अलग-अलग थाने में 20 से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं। शिवहर के एसडीपीओ राकेश कुमार ने बताया कि जांच में पता चला है कि आरोपी प्रत्याशी के समर्थक बनकर भीड़ में शामिल हुए थे और मौका लगते ही उन पर फायरिंग कर दी। फरार बदमाशों की तलाश की जा रही है।

इससे पहले आरजेडी के पूर्व प्रदेश सचिव शक्ति मलिक की रविवार को गोलियों से भून कर हत्या कर दी गई थी। हत्या के मामले में बिहार पुलिस ने रविवार को पार्टी के मुख्य नेता तेजस्वी यादव, तेजप्रताप यादव और अनिल कुमार साधु समेत 6 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी।

बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव का पहला चरण 28 अक्टूबर से होने वाला है। और 10 नवंबर को नतीजे आएंगे।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.