Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस में.. रोज नए मोड़ आ रहे हैं.. मामले की जांच में अब महाराष्ट्र और बिहार पुलिस आमने-सामने आती नजर आ रही हैं.. जांच के लिए मुंबई पहुंचे पटना के एसपी विनय तिवारी को.. बृहन्मुंबई महानगरपालिका (BMC) ने क्वारैंटाइन कर दिया.. उनके हाथ पर क्वारैंटाइन की मुहर लगाते हुए उन्हें अगले आदेश तक एक घर में रहने को कहा गया है.. BMC के इस कदम से साफ है, कि अब वो जांच के लिए किसी से मिल नहीं सकेंगे.. जांच के लिए मुंबई गए एसपी विनय तिवारी को क्वारैंटाइन किए जाने के मामले में तूल पकड़ा.. तो BMC की ओर से कहा गया कि सरकारी आदेशों का पालन करते हुए और नियम के मुताबिक एसपी विनय तिवारी को क्वारैंटाइन किया गया..

महाराष्ट्र सरकार के इस कदम से सियासत तेज हो गई.. पूरे मामले पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने टिप्पणी की.. उन्होंने कहा कि हम अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं.. और पटना सिटी के एसपी विनय तिवारी के साथ मुंबई में जो कुछ है, वो ठीक नहीं है.. इससे पहले बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने बिहार पुलिस की अहम बैठक बुलाई.. उन्होंने बताया कि IPS विनय तिवारी पुलिस टीम का नेतृत्व करने के लिए आधिकारिक ड्यूटी पर पटना से मुंबई पहुंचे.. लेकिन उन्हें BMC के अधिकारियों ने जबरन क्वारंटीन कर दिया..

 जांच के लिए पटना से मुंबई पहुंचे एसपी विनय तिवारी को क्वारैंटाइन किए जाने पर महाराष्ट्र सरकार में भी मतभेद नजर आया.. शिवसेना के साथ सरकार चला रही कांग्रेस के नेता संजय निरुपम ने तीखी प्रतिक्रिया दी.. उन्होंने कहा, कि, BMC और मुंबई पुलिस का रवैया बेहद गैरजिम्मेदाराना है.. इस मामले में मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को हस्तक्षेप करना चाहिए.. नहीं तो मुंबई पुलिस शक के दायरे में आ जाएगी..

इस पूरे मामले में नया मोड़ तब आया.. जब मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने कहा.. कि, पूरे मामले में बिहार पुलिस को जांच करने का कोई अधिकार नहीं है.. उन्होंने कहा कि इस पर कानूनी सलाह ली जा रही है और अभी तक किसी को भी क्लीन चिट नहीं दी गई है..

पहले मुंबई पुलिस का बेपरवाही भरा रवैया.. और फिर BMC की बेरूखी के बाद सुशांत सुसाइड केस को लेकर सस्पेंस बढ़ गया है.. आशंका जताई जाने लगी है, कि कहीं ना कहीं दाल में कुछ काला है.. अपनी जिम्मेदारियों को लेकर महाराष्ट्र सरकार भी सवालों के घेरे में है.. उधर, बिहार में इस मामले में राजनीति तेज हो गई है>

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.