Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

दुनिया भर में कोरोना के बढ़ते खौफ के मद्देनजर अब दुनिया चीन की तरफ उंगलियां उठा रही है। पूरी दुनिया को लगता है कि इस भंयकर महामारी की चपेट में वह चीन की वजह से ही आई है। चीन में जिस तरह से लोग जिंदा या मुर्दा तरह तरह के जानवर खाते हैं, उसकी वजह से यह वायरस मनुष्यों में भी फैला है। वुहान के  सी-फूड मार्केट से इसके फैलने का बात तो पहले से ही कही जा रही है। अमेरिका इस वायरस को दुनियाभर में फैलाने के लिए चीन को दोषी ठहरा रहा है। हालांकि, चीन इन आरोपों से इंकार करता रहा है। चीन उल्‍टा अमेरिका पर कोरोना वायरस को फैलाने का आरोप लगा रहा है। सोशल मीडिया पर #CovidVirus19 की जगह #ChineseVirus19 ट्रेंड कर रहा है। लोग तरह तरह से अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे है।

इनका मानना है कि चीन को अलग थलग कर देना चाहिए


इन्होंने चीन के झंडे में कलाकारी दिखाई है…

विश्‍वभर में कोरोना वायरस (COVID19) बढ़ते प्रकोप के बीच ये सवाल भी उठ रहा है कि आखिर ये जानलेवा वायरस आया कहां से?  अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने आरोप लगाया था कि चीन ने कोरोना वायरस को लेकर प्रारंभिक सूचना छिपाई जिसकी सजा आज दुनिया भुगत रही है। ट्रंप ने कोरोना वायरस को चीनी वायरस बताते हुए कहा था, ‘दुनिया उनके कर्मों की बहुत बड़ी सजा सुना रही है।’ ट्रंप का इशारा इस बात की ओर था कि चीन ने सही समय पर कोरोना वायरस के फैलने की पूरी सूचना साझा नहीं की। ट्रंप ने कहा, ‘इस बीमारी को चीन से ही रोका जा सकता था जहां से यह शुरू हुई थी।’ उन्‍होंने कहा कि अगर चीन ने सही सूचना समय पर दी होती तो अमेरिकी अधिकारी समय पर कदम उठाते और इस महामारी को फैलने से रोका जा सकता था।

DONALD TRUMPइस वायरस के लिए चीनी वायरस या वुहान वायरस जैसे शब्दों का उपयोग गलत है।’ चीनी दूतावास के प्रवक्ता जी रोंग ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को चीन के लोगों की आलोचना के बजाय महामारी पर चीन की त्वरित प्रतिक्रिया पर ध्यान देना चाहिए। चीन ने सफाई दी है कि उन्‍होंने न ही COVID19 को बनाया है और न ही इसे अन्‍य देशों में फैलाया है।

चीन के विदेश मंत्री वॉन्ग यी ने इसे लेकर भारत से साथ मांगा है। उन्होंने कहा है कि भारत को इस बर्ताव का विरोध करना चाहिए।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.