Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव के शहीदों पर दिए गए बयान ने हर जगह हंगामा खड़ा कर दिया है। बता दें कि अखिलेश यादव ने पीएम मोदी पर टिप्पणी करते हुए बयान दिया था कि देश में  जितने भी जवान शहीद हुए हैं वह सारे यूपी, मध्य प्रदेश और दक्षिण भारत से है लेकिन गुजरात का कोई जवान शहीद हुआ हो तो बताओ।

अखिलेश यादव के इस बयान की निंदा सभी विपक्ष पार्टी ने तो की ही लेकिन उनके साथ गठबंधन के साथी कांग्रेस पार्टी ने भी इस बात से पल्ला झांड दिया। कांग्रेस पार्टी प्रवक्ता अजय कुमार ने कहा कि अखिलेश यादव के बयान से कांग्रेस बिलकुल सहमत नहीं है क्योंकि जवान पूरे देश का होता है, उसको किसी राज्य से जोड़कर बयानबाजी करना सही नहीं है। केंद्रिय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने भी अखिलेश के बयान को गलत ठहराते हुए निशाना साधा कि लगता है, अखिलेश की चुनाव में हार के बाद मानसिक स्थिति बिगड़ गई है इसलिए वह राष्ट्रीय सुरक्षा जैसे संवेदनशील मुद्दो पर ऐसी गैर जिम्मेदाराना बातें कर रहे हैं। वहीं योग गुरु बाबा रामदेव ने भी अखिलेश के बयान की निंदा करते हुए कहा कि किसी भी राजनीतिक दल को इस तरह की ओछी सोच रख कर निम्नस्तरीय बयान तो बिल्कुल भी नहीं देना चाहिए। गुरू रामदेव ने कहा कि गुजरात ने सरदार पटेल जैसे महान नेता दिए हैं, जिन्होंने राष्ट्र को एकजुट किया। किसी भी नेता को किसी भी राज्य की संस्कृति पर टिप्पणी नहीं करनी चाहिए। बीजेपी ने कहा कि यादव ने गुजरात के लोकप्रिय नेतृत्व पर बयानबाजी करके अपनी हताशा जाहिर की है। साथ ही राज्य सरकार ने उनकी आलोचना करते हुए कहा कि शहीदों की शहादत को क्षेत्र, धर्म, जाति या वर्ग के संकीर्ण नजरिए से नहीं देखना चाहिए।

कांग्रेस और विपक्ष पार्टियों द्वारा अखिलेश के शहीदों पर दिए गए बयान की आलोचना तो की ही गई लेकिन सोशल  मीडिया में भी इस बात को काफी हवा मिली जिसके बाद लोगों ने अखिलेश पर जमकर ताने कसे।  ट्विटर पर लोग #AkhileshInsultsMartyrs ट्रेंड करे हैं, जिसके जरिए लोग उनके बयान पर अपनी राय दे रहे हैं। अखिलेश यादव के बयान पर राजीव सूद ने लिखा है, “क्या मैं उनसे पूछ सकता हूं कि उनके परिवार से शहीद तो छोड़ो क्या कोई सैनिक भी है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.