Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया की परेशानी कम होती नजर नहीं आ रही है। क्राइम ब्रांच ने एक और वीडियो को जारी कर प्रवीण तोगड़िया के आरोपों को गलत साबित करने की पूरी कोशिश की है। जारी वीडियो में यह साफ दिखाई दे रहा है कि शाम 7 बजकर 54 मिनट पर तोगड़िया अपने साथी धनश्याम के घर से उसकी कार में निकले थे। इसके बाद 8 बजकर 33 मिनट पर सरदार नगर पहुंचकर वह 108 इमरजेंसी सर्विस को फोन करते दिखाई दे रहे हैं।

वहीं सफाई देते हुए तोगड़िया ने इस बात का दावा किया है कि वो पुलिस से बचने के लिए पूरे दिन ऑटो में घूमते रहे। इस दौरान ऑटो से एयरपोर्ट जाते वक्त वह बेहोश हो गए और जब उन्हें होश आया तो वह अस्परताल में थे।

आपको बता दें कि सोमवार को तोगड़िया के खिलाफ अरेस्ट वॉरंट जारी किया गया था। वॉरंट जारी होने के बाद वह दिन भर गायब रहे। इसके बाद देर शाम बेहोशी की हालत में मिले। जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उस दौरान अस्पताल ने दावा किया था कि तोगड़िया को 108 एंबुलेंस से अस्पताल लाया गया था।

हालांकि, अगले ही दिन पुलिस ने अपनी बात रखी कि जिस वक्त विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया अस्पताल पहुंचे उस वक्त वह बेहोश नहीं थे और रास्ते में डॉक्टरों के संपर्क में थे। तो वहीं तोगड़िया ने अपना बचाव करते हुए कहा कि एसीपी भट्ट जानबूझकर उनके खिलाफ कार्रवाई कर रहे हैं।

तोगड़िया ने यह दावा किया कि गुजरात पुलिस के साथ राजस्थान पुलिस का एक बड़ा दल मेरा एनकाउंटर करने आ रहा है। उन्होंने कहा कि उसके बाद मैं विश्व हिंदू परिषद के एक कार्यकर्ता के साथ शहर के थलतेज इलाके में गया। मैंने राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया को फोन किया लेकिन उन्होंने इस बात से साफ इनकार कर दिया और कहा उनकी पुलिस उसे गिरफ्तार करने गुजरात नहीं आई है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.