होम अपराध Delhi Riots: इतिहास में सबसे खराब सांप्रदायिक दंगों की जांच में विफलता...

Delhi Riots: इतिहास में सबसे खराब सांप्रदायिक दंगों की जांच में विफलता के लिए Delhi Police को याद किया जायेगा- HC

2020 में हुए दिल्ली दंगों (Delhi Riots) की जांच को लेकर दिल्ली पुलिस को दिल्ली हाईकोर्ट (High Court) ने फटकार लगाते हुए कहा कि विभाजन (Partition) के बाद से दिल्ली के इतिहास में सबसे खराब सांप्रदायिक दंगों की जांच में विफलता के लिए दिल्ली पुलिस को याद किया जायेगा।

Bar & Bench (B&B) के अनुसार, कड़कड़डूमा जिला न्यायालय में अतिरिक्त सत्र Justice न्यायाधीश विनोद यादव ने दंगों में तीन आरोपियों को आरोपमुक्त करने का आदेश पारित करते हुए यह टिप्पणी की। तीन आरोपियों शाह आलम, राशिद सैफी और शादाब को बरी करते हुए अदालत ने कहा कि यह करदाताओं की गाढ़ी कमाई की भारी बर्बादी है और पुलिस का इस मामले की जांच करने का कोई वास्तविक इरादा नहीं था। तीनों पर फरवरी 2020 में राष्ट्रीय राजधानी के चांद बाग इलाके में एक दुकान को लूटने और तोड़फोड़ करने का आरोप लगाया गया था।

Court ने कहा कि जांच की इतनी लंबी अवधि के बाद भी पुलिस ने मामले में केवल पांच गवाह पेश किए थे। इसके अलावा, अदालत ने कहा कि पुलिस केवल तीन लोगों को गिरफ्तार करने में कामयाब रही है, जिसमें रिपोर्ट के अनुसार सैकड़ों की भीड़ शामिल है। उन्होंने कहा कि जांच के नाम पर “केवल अदालत की आंखों पर धूल झोंकने की कोशिश की गई और कुछ नहीं। अदालत ने यह भी कहा कि कई आरोपी पिछले डेढ़ साल से जेलों में बंद हैं, क्योंकि पुलिस अभी भी उनके मामलों में पूरक आरोप पत्र दाखिल कर रही है।

बता दें कि दिल्ली हाई कोर्ट ने पिछले साल फरवरी में उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुए दंगों के दौरान लूटपाट और परिसर में आग लगाने के आरोप में दर्ज चार प्राथमिकी यह कहते हुए रद्द कर दी कि एक ही जैसी घटना में पांच अलग-अलग एफ़आईआर दर्ज नहीं की जा सकती हैं। इसे सुप्रीम कोर्ट के द्वारा तय किए गए नियमों के खिलाफ बताया।

ये था मामला

यह घटना उत्तर-पूर्वी दिल्ली के मौजपुर इलाके में हुई थी, एक घर में लगी आग और आसपास के घरों में भी फैल गई और काफी सामान जल गया था। इस बारे में दिल्ली कोर्ट ने कहा कि यह नहीं कहा जा सकता कि घटनाएं अलग थीं या अपराध अलग थे। दिल्ली पुलिस ने एक ही अभियुक्त का नाम पांच-पांच अलग-अलग मामलों में भी दर्ज कर दिया था। इस मामले में आतिर नाम के शख़्स की ओर से याचिका दायर की गई थी। अदालत ने दिल्ली पुलिस के कामकाज के तरीकों पर सवाल उठाया, ये कोई पहली बार नहीं हुआ है। हाई कोर्ट या कुछ और स्थानीय अदालतों ने, बीते एक से डेढ़ साल में लगातार दिल्ली पुलिस के कामकाज पर सवाल उठाती रही हैं।

पहले भी उठे थे सवाल

जुलाई, 2021 में दिल्ली की एक अदालत ने दिल्ली दंगों के दौरान दिल्ली पुलिस के कामकाज और उसके रवैये पर सवाल उठाते हुए कहा था कि जांच को लेकर दिल्ली पुलिस उदासीन है। इससे पहले दिल्ली हाई कोर्ट ने एक अभियुक्त के कथित कबूलनामे के लीक होने की जांच रिपोर्ट पर दिल्ली पुलिस को फटकार लगाते हुए कहा था कि यह ‘आधा-अधूरा और बेकार काग़ज़ का टुकड़ा है। इस साल जून में देवांगना कालिता, नताशा नरवाल और आसिफ इकबाल तन्हा को जमानत देते हुए भी दिल्ली हाई कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को फटकार लगाते हुए पुलिस की चार्जशीट को सिरे से खारिज कर दिया था।

तीन दिन तक चले थे दंगे

बता दें कि पिछले साल 23 फरवरी को उत्तर-पूर्वी दिल्ली तीन दिन तक दंगे चले थे। इलाके की वाहनों और दुकानों में आग लगा दी गई थी। जाफराबाद, वेलकम, सीलमपुर, भजनपुरा, गोकलपुरी और न्यू उस्मानपुर में दंगे में 53 लोगों की मौत हो गई थी और 581 लोग घायल हो गए थे। पुलिस ने 755 एफ़आईआर दर्ज की थीं और 1,818 लोगों को गिरफ़्तार किया था।

ये भी पढ़ें:

China ने नए समुद्री नियमों को किया लागू, बढ़ी India-America और पड़ोसी देशों की मुश्किलें

चीन के पत्थरबाज सैनिक, चाइना ने वीडियो जारी कर खोल दी अपने ही सैनिकों की पोल, भारत को करना चाहता था बदनाम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

T20 World Cup : Scotland ने किया बड़ा उलटफेर, बांग्लादेश को 6 रनों से हराकर सबको चौंकाया

T20 World Cup के दूसरे मैच में ही बड़ा उलटफेर हो गया। इस मैच में Scotland ने Bangladesh को 6 रनों से हराकर मुकाबले को जीत लिया। स्कॉटलैंड की टीम ने बांग्लादेश को हराकर सभी टीमों को सतर्क कर दिया। स्कॉटलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 140 रन बनाए। जवाब में बांग्लादेश की टीम 7 विकेट खोकर 134 रन ही बना सकी। क्रिस ग्रीव्स को हरफनमौला खेल (45 एवं 2/19) के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

Priyanka Gandhi Vadra होंगी UP Congress चुनाव अभियान का चेहरा : P L Punia

प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) उत्तर प्रदेश (UP) में कांग्रेस के चुनाव अभियान का चेहरा होंगी, ये बात कांग्रेस नेता पीएल पुनिया (PL Punia) ने आज कहा। पुनिया को अगले साल यूपी चुनावों के लिए कांग्रेस की प्रमुख 20-सदस्यीय चुनाव प्रचार समिति के प्रमुख के रूप में नामित किया गया है,

17 अक्टूबर: देश के कई हिस्सों में भारी बारिश, पढ़ें दिन भर की तमाम बड़ी खबरें

Kerala में भारी बारिश से मची तबाही के कारण कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक भारी बारिश की वजह से इडुक्की और कोट्टायम जिलों में कई जगहों पर भूस्खलन हुआ, जिसके कारण यह हादसा हुए। एनडीआरएफ का राहत दल तुफान और बारिश में फंसे लोगों को बचाने में दिन-रात लगी हुई है।

सिंघु बॉर्डर में हुई दलित व्‍यक्ति की मौत पर बसपा प्रमुख Mayawati ने सीबीआई जांच की मांग की, कहा – मामला गंभीर है

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा प्रमुख Mayawati ने सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर कथित तौर पर निहंग सिख द्वारा की गई एक दलित व्यक्ति मौत की पर सीबीआई जांच की मांग की है।