टोक्यो ओलंपिक 23 जुलाई से 8 अगस्त 2021 तक खेला जाएगा। उससे ठीक पहले, दिल्ली सरकार ने प्रदेश के खिलाड़ियों को बढ़ावा देने और प्रोत्साहित करने के लिए एक अच्छा योजना तैयार किया है। टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने वाले दिल्ली के खिलाड़ियों को स्वर्ण पदक जीतने पर 3 करोड़ रुपये, रजत पदक जीतने पर 2 करोड़ रुपये व कांस्य पदक जीतने पर 1 करोड़ रुपये की भारी राशि देकर सम्मानित किया जाएगा।


इसके साथ ही पदक हासिल करने वाले खिलाड़ियों के कोच को भी 10 लाख रुपये की बड़ी राशि दी जाएगी। दिल्ली की ओर से ओलंपिक खेलों में देश का प्रतिनिधित्व करने वाले खिलाड़ियों में मानिका बत्रा, दीपक कुमार, अमोज जैकब और सार्थक भांबरी खेल रहे हैं।

खेल रत्न पुरस्कार से सम्मानित मानिका बत्रा, टेबल टेनिस भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी, दीपक कुमार शूटिंग में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे. वो 10 मीटर एयर राइफल शूटिंग स्पर्धा में भाग लेंगे. दिल्ली के गुरु तेग बहादुर खालसा कॉलेज के विद्यार्थी रहे अमोज जैकब 4×400 मीटर रिले में देश का प्रतिनिधित्व करेंगे. दिल्ली के ही सार्थक भांबरी 4×400 मीटर रिले में देश का प्रतिनिधित्व कर रहे है।


दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि भविष्य के ओलंपियन बनाने के लिए दिल्ली की तैयारी जोरों पर है और हम यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि विश्व स्तरीय स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी जाएगी। दिल्ली खेल विश्वविद्यालय उन खिलाड़ियों को तैयार करने का काम करेगा जो ओलंपिक खेलों में देश के लिए मेडल लाएगा।


स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी दिल्ली को स्पोर्ट्स हब के रूप में विकसित करेगी इस दिशा में खेलों को बढ़ावा देने के लिए यूनिवर्सिटी कम्युनिटी स्पोर्ट्स के माध्यम से पूरे दिल्ली में स्पोर्ट्स इवेंट्स आयोजित किया जाएगा। ताकि दिल्ली के साथ-साथ पूरे देश में स्पोर्ट्स को लेकर माहौल बने, ताकि हम 2048 के ओलंपिक खेलों को अपने देश में कराने के लिए दावा कर सकें।


दिल्ली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी के आधार पर ही दिल्ली स्पोर्ट्स स्कूल की स्थापना भी की जा रही है। दिल्ली स्पोर्ट्स स्कूल में अगले सत्र से दाखिला शुरू हो जाएगा जहां विद्यार्थियों की क्षमताओं व रुचियों को देखते हुए उनके लिए खेलों का चयन किया जाएगा और उन्हें बेहतरीन ट्रेनिंग व शिक्षा दी जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here