कोरोना वायरस का फैलाव दिन प्रतिदिन विकराल होता जा रहा है और रोज अपना ही रिकार्ड तोड़ रहा है। आज 1 लाख 45 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं। पिछले 24 घंटे में इस वायरस से 794 मौतें हुई हैं। अब ये बेहद खतरनाक स्तर पर जा पहुंचा है। कई जगह नाइट कर्फ्यू लगा हुआ है, वहीं कुछ जगहों पर सख्त लॉकडाउन है। महाराष्ट्र में आज वीकेंड लॉकडाउन है। मध्य प्रदेश के कई शहरों में लॉकडाउन बढ़ा दिया गया है। UP में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 12,787 पॉजिटिव मामले सामने आए हैं और 48 मौतें दर्ज की गई हैं। लखनऊ में कोरोना के सारे रिकॉर्ड टूट चुके हैं और हालात बेकाबू हैं। इसके अलावा दूसरी तरफ टीकाकरण भी जारी है।

इस बीच देश में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार से 14 अप्रैल तक देशभर में टीका उत्सव मनाने की अपील की है। इस दौरान 45 साल से अधिक उम्र के ज्यादा से ज्यादा लोगों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य है।

प्रधानमंत्री ने इसके लिए देश के नाम एक लेख भी लिखा है। इसमें उन्होंने अपील की है कि हर पात्र व्यक्ति वैक्सीन लगवाए। वैक्सीन का नुकसान न हो इसका ख्याल रखें। मोदी ने कोरोना से जारी जंग में सफलता हासिल करने के लिए 4 सूत्र भी बताए हैं। प्रधानमंत्री ने लिखा-

भारत ने वैक्सीनेशन के मामले में शनिवार को बड़ी उपलब्धि हासिल की है। देश में अब तक कोरोना की 10 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन लगाई जा चुकी हैं। दूसरे देशों के मुकाबले भारत को ऐसा करने में सिर्फ 85 दिन लगे। इतने वक्त में अमरीका ने 9।2 करोड़ और चीन में 6।14 करोड़ टीके लगे थे। हेल्थ मिनिस्ट्री ने यह जानकारी दी। हालांकि कुल वैक्सीनेशन के लिहाज से देखा जाए तो अमेरिका और चीन भारत से काफी आगे हैं।

उत्तर प्रदेश में भी कोरोना की बेकाबू होती रफ्तार के बीच यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने जनता से अनुरोध किया कि चाहे कोई भी धर्मस्थल हो 5 से अधिक लोग इकट्ठा न हों।

सीएम योगी ने आगे कहा कि इस मसले पर वह धर्मगुरुओं से बात करेंगे। उन्होंने कहा कि कल परसों में सभी धर्मगुरुओं से इसपर चर्चा की जाएगी। हम उनसे अपील करेंगे। मनुष्य के जीवन को प्राथमिकता दी जाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना के संक्रमण को अगर रोकना है तो सख्ती का पालन करना होगा।यूपी के सीएम ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर पहले से ज्यादा खतरनाक है। हमें पहली लहर का अनुभव है, इसीलिए हमने व्यापक रणनीति बनाई है। सभी कोरोना नियमों का पालन करते हुए त्योहार और पर्व मनाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here