Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

मध्यप्रदेश के गुना में पुलिसकर्मियों ने एक दलित किसान दंपति पर अपने बल का पूरा प्रयोग किया, दरअसल गुना पुलिस का एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें वो पति-पत्नी को बहरेमी से मारते नज़र आ रहे है, और उनके बच्चे अपने मां बाप को बचाने की पूरी कोशिश करते है, लेकिन नाकाम हो जाते है। जो तस्वीर सामने आई है वो दिल दुखा देने वाली है।

बुधवार को वायरल हुई इस घटना पर विवाद बढ़ता जा रहा है, वहीं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कड़ा एक्शन लेते हुए, गुना के कलेक्टर और एसपी को तुरंत हटा दिया और इस घटना पर जांच के आदेश दिए हैं।

दरअसल, ये घटना तो मंगलवार की है लेकिन इसका वीडियो बुधवार को वायरल हुआ। यहां गुना में मॉडल कॉलेज निर्माण के लिए करीब 20 बीघा जमीन जगनपुर क्षेत्र में आवंटित की गई थी। इस जमीन पर कई सालों से एक शख्स ने अतिक्रमण किया हुआ था, जिसे कुछ समय पहले राजस्व और पुलिस की टीम ने मिलकर हटवा दिया था। अतिक्रमण हटाने के बाद भी ज़मीन पर कॉलेज का निर्माण तो शुरू नहीं हुआ लेकिन यहां राजकुमार अहिरवार नाम के व्यक्ति ने खेतीबाड़ी शुरू कर दी. जिसके बाद मंगलवार को गुना के स्थानीय प्रशासन का दस्ता जेसीबी लेकर यहां पहुंचा और राजकुमार अहिरवार के खेत में बोई हुई फसल पर जेसीबी चलवा दी. ये सब होता देख राजकुमार ने काफी मिन्नत की लेकिन जब कार्रवाई नहीं रुकी तो उसने प्रशासन की टीम के सामने ही कीटनाशक पी लिया. पति को कीटनाशक पीते देख पत्नी में भी उसी बोतल से कीटनाशक पी लिया. इसके बावजूद प्रशासन ने जबरन पिटाई करते हुए दंपति को अपने कब्जे में ले लिया।

इस विवाद ने जैसे ही तूल पकड़ा तो राजनीति भी गरमा गई है, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्विटर के जरिए सरकार को घेरा. कमलनाथ ने लिखा, ‘’ये शिवराज सरकार प्रदेश को कहां ले जा रही है? ये कैसा जंगल राज है? गुना में कैंट थाना क्षेत्र में एक दलित किसान दंपत्ति पर बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों द्वारा इस तरह बर्बरता पूर्ण लाठीचार्ज.’ वहीं मायावती ने लिखा कि बीजेपी दलितों के हित की बात करती है, लेकिन इस तरह की घटनाएं हो रही हैं. कांग्रेस और भाजपा राज में कोई अंतर नहीं है.

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.