Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

एक रिसर्च के अनुसार, जिस तेज गति से धरती से बड़े जानवर विलुप्त होते जा रहे हैं और स्तनधारी जीवों की संख्या में तेजी से कमी आ रही हैं। इसे देखते हुए आने वाले 200 सालों में घरेलू गाय धरती की सबसे बड़ी स्तनधारी जीव बन जाएगी। इसका मतलब है कि आने वाले सालों में हाथी, जिराफ और दरियाई घोड़े जैसे बड़े जीवों का धरती से नामो निशान मिट जाएगा। अमेरिका स्थित यूनिवर्सिटी ऑफ न्यू मेक्सिको की स्टडी के मुताबिक, जानवरों की विलुप्ति का कारण जलवायु परिवर्तन नहीं बल्कि मनुष्य हैं। क्योंकि मनुष्य खाने के लिए बड़े जानवरों के मीट का इस्तेमाल करता हैं, इसलिए चूहे जैसे जानवरों की संख्या में कोई कमी नहीं आई हैं।

If humans keep hunting, then only 200 years will be left on the earth: Researchन्यू मेक्सिको यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने बताया, कि स्तनधारी प्राणियों की विलुप्ति 1,25,000 साल पुराने ट्रेंड का हिस्सा है लेकिन अगर पृथ्वी से स्तनधारी प्राणियों की विलुप्ति ऐसे ही जारी रही तो वो समय अब ज्यादा दूर नहीं हैं जब गाय इस धरती का सबसे बड़ा स्तनधारी जीव बन जाएगा। साइंस जर्नल में छपे इस शोध में बताया गया है, कि शरीर के आकार में गिरावट, समय के साथ प्रत्येक महाद्वीप पर सबसे बड़ी प्रजातियों को नुकसान, अतीत और वर्तमान दोनों में मानव गतिविधि का एक प्रतीक है।

शोधकर्ताओं ने कहा, ये बात बेहद चौंकाने वाली इसलिए है क्योंकि अन्य महाद्वीपों की अपेक्षा अफ्रीका आकार में सबसे बड़ा है और एक समय पर वहां बड़ी संख्या में स्तनधारी जीव रहते थे। लेकिन जैसे-जैसे मनुष्य दुनिया के अलग अलग जगह की सैर कर रहा हैं, वहां-वहां से बड़े स्तनधारी जीवों का खात्मा होता जा रहा हैं। इसका सबसे बड़ा कारण मनुष्य ही हैं क्योंकि मनुष्य मीट के लिए बड़े जानवरों को सबसे पहले निशाना बनाता हैं। शोधकर्ताओं ने कहा, वूली राइनोसर्स, मैमोथ, इलामस, ऊंट, जमीन पर रहने वाले स्लॉथ भी गायब हो गए हैं।

इस शोध में वैज्ञानिकों ने ये भी पाया, कि 6.5 करोड़ साल पहले जानवरों की विलुप्ति जलवायु परिवर्तन के कारण नहीं हुई थी। बल्कि उस वक्त या तो जानवर विस्थापित हुए या उन्होंने खुद को वातावरण के अनुकूल ढाल लिया।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.