होम देश UP Election 2022 में BJP Krishna Janma Bhoomi मुद्दे पर लड़ेगी चुनाव?...

UP Election 2022 में BJP Krishna Janma Bhoomi मुद्दे पर लड़ेगी चुनाव? क्या कहता है Keshav Prasad Maurya का ट्वीट?

UP Election 2022 में बीजेपी कें Manifesto में सबसे ऊपर कौन सा मुद्दा रहने वाला है, यह साफ हो गया है। उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या (Keshav Prasad Maurya) ने अपने एक ट्वीट से साफ कर दिया है कि उनकी सरकार किस मुद्दे को लेकर राज्य में वोट मांगने वाली है। पार्टी के Manifesto में Mathura Next है। अयोध्या और काशी (Ayodhya and Kashi) के बाद पार्टी की नजर कृष्ण जन्मभूमि (Krishna Janma Bhoomi) पर है। उनके एक ट्वीट के बाद ट्विटर पर #MathuraNext ट्रेंड कर रहा है।

देखें ट्वीट

1 दिसंबर को उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने ट्वीट कर लिखा था कि अयोध्या काशी भव्य मंदिर निर्माण जारी है मथुरा की तैयारी है।

मौर्या के इस ट्वीट के बाद कहा जा रहा है कि बीजेपी फिर हिंदुत्व के मुद्दे  को भुनाने में जुट  गई  है। बीजेपी 90 के दशक के अपने पुराने तेवर में लौट रही है। मौर्या के इस ट्वीट पर विपक्षी दलों का कहना है कि पार्टी के पास विकास की बात करने के लिए कुछ नहीं है। इसलिए वे फिर हिंदू-मुस्लिम वाली राजनीति पर उतर आए हैं।

मौर्या के ट्वीट से पहले एक दक्षिणपंथी संगठन ने मथुरा की शाही मस्जिद में भगवान कृष्ण की मूर्ति को स्थापित करने का ऐलान किया था। जानकारी के अनुसार, वो संगठन 6 दिसंबर को शाही मस्जिद में कान्हा की मूर्ति की स्थापना करेगा। 6 दिसंबर वही तारीख है जब अयोध्या में बाबरी मस्जिद के ढाचे को गिराया गया था। संभावना जताई जा रही है कि राज्य में कानून व्यवस्था खराब हो सकती है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार वहां पर पहले से ही फोर्स को लगाने की तैयारी हो चुकी है। मथुरा में धारा 144 लागू है।

पूरा मामला

अहम बात ये है कि मथुरा श्रीकृष्ण जन्मस्थान और शाही मस्जिद ईदगाह के विवाद को लेकर 136 साल तक केस चला। जिसके बाद अगस्त 1968 में महज ढाई रूपये के स्टांप पेपर पर समझौता किया गया। तत्कालीन डीएम व एसपी के सुझाव पर श्री कृष्ण जन्मस्थान सेवा संघ और शाही मस्जिद ईदगाह कमेटी ने दस प्रमुख बिदुओं पर समझौता किया था। जिस समझौते को अवैध करार देते हुए कोर्ट में दाखिल दावे में मस्जिद को हटाने की मांग की गई है।

इस बाबत कोर्च में याचिका भी दाखिल की गई है, जिसमें दावा किया गया है ​कि श्रीकृष्ण का जन्म कंस के कारागार में हुआ था और वह पूरा श्रेत्र ‘कटरा केशव देव’ के नाम से जाना जाता है। कृष्ण जन्म की वास्तविक जगह वहां है, जहां मस्जिद ईदगाह ट्रस्ट की प्रबंधन कमेटी ने निर्माण किया हुआ है। दावे में यह भी कहा गया है कि, मुगल शासक औरंगज़ेब ने मथुरा में कृष्ण मंदिर को नष्ट करवाया था। जहां केशव देव मंदिर था, वहीं जो मस्जिद बनवाई गई, उसे ईदगाह के नाम से जाना जाता है।

काशी विश्वनाथ परिसर को मोदी सरकार ने भव्य स्वरूप दिया है

कुछ हलकों में यह कहा भी जा रहा है कि अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण कार्य के बाद मथुरा जन्मभूमि का विवादित प्रकरण उठाया जा सकता है। जहां तक काशी विश्वनाथ का सवाल है तो वहां भी मोदी सरकार ने पूरे परिसर को भव्य रूप दे दिया है।

दरअसल काशी और मथुरा का विवाद हालिया तौर पर तब तूल पकड़ने लगा जब राम जन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के एक सदस्य जगदगुरु वासुदेवानंद सरस्वती ने यह बयान दिया था कि पहले राम जन्मभूमि पर मंदिर का निर्माण कराया जाएगा। उसके बाद काशी विश्वनाथ और मथुरा की कृष्ण जन्मभूमि को मुक्त कराने के लिए काम किया जाएगा।

यह भी पढ़ें:

UP Election 2022: यूपी के डिप्टी सीएम Keshav Prasad Maurya का ट्वीट, लिखा- ‘अयोध्या, काशी में भव्य मंदिर निर्माण जारी है… मथुरा की तैयारी है’

यूपी: सपा सांसद शफीकुर रहमान बर्क पर एफआईआर दर्ज, तालिबान का किया था समर्थन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

OSSC Field Assistant Recruitment 2022 के लिए आवदेन की आखिरी तारीख बढ़ी, यहां जानें नई तारीख

OSSC Field Assistant Recruitment 2022: Odisha Service Selection Board (OSSC) ने Field Assistant की भर्ती के लिए आवेदन की आखिरी तारीख आगे बढ़ा दी है।

Gautam Gambhir कोरोना वायरस से हुए संक्रमित, ट्वीट कर दी जानकारी और संपर्क में आए लोगों से टेस्ट कराने की अपील की

Team India के पूर्व सलामी बल्लेबाज और बीजेपी सांसद Gautam Gambhir कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए है। गंभीर ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि कोरोना के हल्के लक्षण दिखने पर मैंने अपनी जांच कराई थी और उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। गंभीर ने खुद को आइसोलेट कर लिया है। गंभीर ने साथ ही उन सभी लोगों से कोरोना की जांच करान को कहा है, जो पिछले कुछ दिनों में उनके संपर्क में आए थे।

SpiceJet को मिल सकती है राहत, कंपनी का संचालन बंद करने के Madras HC के फैसले पर सुनवाई करने को तैयार हुआ SC

विमानन कंपनी SpiceJet का संचालन बंद करने के मामले पर सुनवाई करने के लिए सुप्रीम कोर्ट तैयार हो गया है। याचिका में...

Congress और BJP के बीच सीधी लड़ाई, AAP के लिए कोई संभावना नहीं: Harish Rawat

कांग्रेस नेता हरीश रावत का कहना है कि वे उत्तराखंड के सीएम होंगे या नहीं, इन बातों का फैसला पार्टी नेतृत्व करेगा और जो भी फैसला होगा वे उसका स्वागत करेंगे। भले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित विपक्षी नेता कांग्रेस के एकमात्र निशाने पर उन्हीं पर हमला कर रहे हों। अभियान का नेतृत्व करना उनके अपने आप में एक तरह का पुरस्कार रहा है। देखें पूरा इंटरव्यू…