Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

New Delhi:आंध्र प्रदेश की कम से कम 10 महिलाएं जो शनिवार को सबरीमाला मंदिर में भगवान अयप्पा मंदिर में पूजा-अर्चना करने के लिए पहुंची थीं, उन्हें वापस भेज दिया गया। 10-50 आयु वर्ग की महिलाएं विजयवाड़ा से 30 सदस्यीय समूह का हिस्सा थीं। पंबा बेस कैंप सबरीमाला की तलहटी में है, जो सबरीमाला मंदिर से लगभग 5 किमी दूर है।

पुलिस के मुताबिक, “पंबा पहुंचने के बाद पुलिस ने उनके पहचान पत्र की जांच की और पाया कि वे वर्जित आयु वर्ग से थी। उन्हें सबरीमाला में मौजूदा स्थिति के बारे में सूचित किया गया। इसके बाद वे आगे नहीं गई।”

सबरीमाला मंदिर शनिवार को एक बार फिर तीन महीने के लिए खोल दिया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने हाल ही में सबरीमाला मामले पर सुनवाई की और मामले को सात सदस्यीय बैंच को पुनर्विचार के लिए भेज दिया गया। अभी भी महिलाओं के मंदिर में प्रवेश को लेकर स्पष्टता नहीं है। कुछ महिला कार्यकर्ताओं द्वारा सबरीमाला मंदिर में पूजा करने की धमकी दी गई। इसी बीच मंदिर की सुरक्षा भी बढ़ा दी गई है।

राज्य सरकार ने कहा है कि उसने महिला श्रद्धालुओं को सुरक्षा प्रदान नहीं की है, लेकिन कई महिला कार्यकर्ताओं ने मंदिर में प्रवेश करने की अपनी योजना की घोषणा की है। मंदिर की शीर्ष संस्था सबरीमाला कर्म समिति ने कहा कि महिलाओं को मंदिर में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.