Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

नई दिल्ली के जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय  में गुरुवार को उपद्रवियों ने स्वामी विवेकानंद की मूर्ति को क्षतिग्रस्त कर दिया है।  कैंपस में प्रदर्शन के बीच आरोपियों ने मूर्ति के आसपास आपत्तिजनक शब्द लिख दिए। BJP को निशाना बनाते हुए प्रतिमा के पास फर्श पर ‘भगवा जलेगा’ और कुछ और आपत्तिजनक बातें लिख दी गईं।

हालांकि अभी इसकी जानकारी नहीं मिल सकी है कि ऐसा करने वाले कौन लोग हैं।  प्रतिमा के क्षतिग्रस्त होने के बाद उसे कपड़े से ढक दिया गया है और मामले की जांच चल रही है।

NSUI के नेता सनी धीमान ने की निंदा

वहीं एनएसयूआई अध्यक्ष सनी धीमान ने इस घटना पर निंदा वक्त करते कहा कि मुझे नहीं लगता है कि जेएनयू का कोई भी छात्र ऐसा कर सकता है। उन्होंने बताया कि मूर्ति को क्षतिग्रस्त नहीं किया गया बल्कि इस पर कुछ लिख दिया गया था। हालांकि अब हमने इसे साफ कर दिया है।

वहीं एक यूजर ने सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर करते हुए लिखा इसमें नया क्या है, स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा को जेएनयू में बर्खास्त कर दिया गया है तो, पिछली बार भी उन्होंने वीर सावरकर को अपमानित किया था। मोदी के विरोधी होने के उत्साह में इन गुंडों ने भारत विरोधी, हिंदू विरोधी और मानवता विरोधी हो गए हैं।

जेएनयू में फिलहाल बड़ी फीस के खिलाफ प्रदर्शन चल रहा है। छात्र विभिन्न चार्ज और नियमों में बदलाव के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं। बता दें कि बुधवार शाम को फीस में वृद्धि आंशिक रूप से वापस ले ली गई और जेएनयू प्रशासन ने कहा कि छात्रावास नियमावली से ड्रेस कोड और आने-जाने के समय से जुड़े उपबंध भी हटा दिए गए हैं। बावजूद इसके छात्र प्रदर्शन कर रहे हैं।

JNU के कुलपति एम जगदीश कुमार से छात्रावास फीस वृद्धि को लेकर बुधवार को उनसे बातचीत के लिए पहुंचे विद्यार्थियों ने विश्वविद्यालय के प्रशासनिक ब्लॉक में उनके खिलाफ दीवारों पर जगह- जगह नारे लिख दिए।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.