Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

पंजाब के अमृतसर में स्थित निरंकारी भवन में रविवार सुबह हुए आतंकी हमले की जांच एनआईए को सौंप दी गई है। एनआईए की तीन सदस्यीय टीम आज अमृतसर में घटनास्थल पर पहुंच गई है और मामले की जांच में जुट गई है। बता दें गांव अदलीवाल स्थित निरंकारी भवन में रविवार सुबह आतंकी हमला हो गया। इसमें तीन लोगों की मौत हो गई और करीब 19 लोग घायल बताए जा रहे हैं।

वारदात को गर्म चादर लपेटे दो लोगों ने सवा 11.15 बजे उस समय अंजाम दिया, जब 200 लोग सत्संग कर रहे थे। घटना के बाद अफरा-तफरी मच गई। डीजीपी ने घटना को आतंकी हमला करार दिया है। उन्होंने कहा कि हमला एक समाज के लोगों पर हुआ है और यह देश विरोधी लोगों की साजिश है। घटना के बाद एरिया में नाकेबंदी कर चेकिंग शुरू कर दी गई।

शिक्षा मंत्री ओपी सोनी सूचना मिलते ही जालंधर में अपना सरकारी कार्यक्रम छोड़कर मौके पर पहुंचे। बाद में डीजीपी सुरेश अरोड़ा, डीजीपी दिनकरल गुप्ता, डीजीपी हरदीप सिंह ढिल्लों समेत तमाम पुलिस अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। डीजीपी सुरेश अरोड़ा की तरफ से एनआईए की टीम को बुला लिया गया है। फिलहाल फोरेंसिक विभाग की टीम मौके पर मौजूद है और सबूत जुटा रही है। घटना के बाद हरियाणा और दिल्ली में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है।

अमृतसर से बॉर्डर की तरफ जाने वाली सभी सड़कें सील कर दी गई हैं। जानकारी के मुताबिक, रविवार सुबह निरंकारी भवन में सत्संग चल रहा था। गेट पर दो सेवादार गगनदीप सिंह और अर्जुन तैनात थे। करीब 11.15 बजे प्लसर बाइक पर दो व्यक्ति आए। दोनों पंजाबी में बोल रहे थे और गर्म चादर लपेटे थे। आते ही दोनों ने पिस्तौल सेवादारों की कमर पर रखी। इसके बाद एक आतंकी अंदर हाल में करीब 100 मीटर चला गया और स्टेज की तरफ बढ़ा।

इसके बाद उसने ग्रेनेड फेंके। एक श्रद्धालु गुरभाग सिंह ने बताया कि सब लोग शांति से सत्संग सुन रहे थे। इस बीच ग्रेनेड उनके कान के पास से निकलकर गया। पहले तो उन्होंने सोचा कि किसी बच्चे ने स्टेज की तरफ कोई चीज फेंकी है। इससे पहले कि वह पीछे मुड़कर ठीक तरह से देख पाते, विस्फोट हो गया। इसके बाद चीख पुकार मच गई और लोग हॉल से भागने लगे। इसके बाद हमलावर फरार हो गए।

पुलिस इस बात की भी पड़ताल कर रही है कि आखिर ये विस्फोटक यहां पहुंचा कैसे। घटना के बाद एहतियातन राजस्थान बॉर्डर सील कर दिया गया है। अमृतसर में पहले से ही आतंकी हमले को लेकर हाई अलर्ट जारी है। ऐसे में इस तरह की घटना ने बड़े सवाल खड़े कर दिए हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.