Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

उत्तरकाशी में मासूम से सामूहिक दुष्कर्म और हत्या के बाद आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर पूरे प्रदेश में लोगो में सरकार ओर पुलिस के खिलाफ आक्रोश व्याप्त है और लगातार प्रदर्शन कर मासूम को न्याय दिलाने की मांग कर रहे है। दोषियों के खिलाफ सीएम भी सख्त से सख्त कार्रवाई के निर्देश दे चुके हैं। लेकिन पुलिस के हाथ अभी तक खाली ही हैं। लोगों ने इसके विरोध में सड़क जाम किया तो आईजी भी उसमें फंस गए। इसी घटना को लेकर मसूरी में विभिन्न समाजिक और राजनैतिक संगठनो के कार्यकर्ता मसूरी के पिक्चर पैलेस चौक पर एकत्रित हुए और हाथो में मोमबत्ती लिये सरकार से मासूम को न्याय दिलाने की मांग के साथ फरार आरोपियों को तत्काल गिरफ्तारी कर फांसी लगाने की मांग की

दरअसल, उत्तरकाशी के डुंडा ब्लॉक में नाबालिग की सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या का विरोध तेज होते जा रहा है।पिछले हफ्ते की घटना में अभी तक पुलिस आरोपियों तक नहीं पहुंच सकी है। जिससे लोगों का गुस्सा और बढ़ गया है। हालांकि, पुलिस ने कई संदिग्धों को हिरासत में लिया है। 12 साल की बच्ची के साथ हुई हैवानियों पर पूरे प्रदेश में उबाल है। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने तो पहले ही कह दिया है कि दोषियों को किसी भी सूरत में बख्शा नहीं जाएगा।

राज्य की महिला एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्य का कहना है कि अपराधियों को जल्द ही पकड़ लिया जाएगा। इस घटना के विरोध में मसूरी में भी लोग सड़कों पर उतरे।.शहर के लोगों ने पिक्चर पैलेस से लेकर शहिद स्थल तक कैंडल मार्च निकाला।.और दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने और फांसी की सजा देने की मांग की।दरअसल, इस तरह की घटनाएं आपराधिक तो हैं ही।सामाजिक भी हैं।समाज का नैतिक पतन इस कदर गिरते जा रहा है कि जिन मासूमों से प्यार किया जाना चाहिए।उन्हें हवस का शिकार बनाया जा रहा है।उनकी हत्याएं की जा रही है।ये शर्मनाक तो है ही।बेहद गंभीर चिंता का विषय भी है।

ब्यूरो रिपोर्ट, एपीएन

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.