Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी किर्गिस्तान के बिश्केक के लिए आज सुबह रवाना हो गए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 13-14 जून को शंघाई सहयोगी संगठन(एससीओ) शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे। किर्गिस्तान के बिश्केक में आज से दो दिवसीय शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) सम्मेलन आयोजित हो रहा है। इस समिट के दौरान पीएम मोदी चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ द्विपक्षीय मुलाकात भी करेंगे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मेादी इस सम्मेलन से अलग किर्गिस्तान के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव और ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी से भी मुलाकात कर कई अहम मुद्दों पर चर्चा करेंगे। बिश्केक में दो दिनों तक चलने वाले शिखर सम्मेलन में जाने से पहले पीएम मोदी ने एक बयान में कहा, इस शिखर सम्मेलन में वैश्विक सुरक्षा की स्थिति, बहुपक्षीय आर्थिक सहयोग, दो देशों के नागरिकों के बीच बेहतर संबंध के साथ अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा होगी। इस सम्मेलन से अलग मेरी कई नेताओं से मुलाकात की भी योजना है, जिससे दोनों देशों के बीच रिश्तों को और मजबूत किया जा सके।

इस बीच एससीओ शिखर सम्मेलन के लिए पीएम नरेंद्र मोदी की किर्गिस्तान की यात्रा पर किर्गिस्तान में भारतीय राजदूत आलोक डिमरी ने कहा है कि शिखर सम्मेलन समाप्त होने के बाद, पीएम की किर्गिस्तान की द्विपक्षीय यात्रा 14 जून से शुरू होगी। वह एक व्यापार मंच का उद्घाटन करेंगे। प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता भी होगी। दोबारा प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के बाद एससीओ पहला बड़ा अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन होगा जिसमें पीएम मोदी भाग लेंगे।

बता दें कि पीएम मोदी का आमना-सामना पाकिस्तान के पीएम इमरान खान से भी होगा। विदेश मंत्रालय के मुताबिक भारत और पाकिस्तान के नेताओं के बीच एससीओ शिखर सम्मेलन के हाशिए पर फिलहाल किसी द्विपक्षीय मुलाकात का कोई कार्यक्रम नहीं है। न ही किसी तरह की औपचारिक भेंट का कोई कार्यक्रम।

पाकिस्तान के रास्ते बिश्केक नहीं जाएंगे पीएम मोदी

विदेश मंत्रालय ने कहा है कि प्रधानमंत्री मोदी का विमान बिश्केक जाने के लिए पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र से होकर नहीं गुजरेगा। मोदी का विमान ओमान, ईरान और कई मध्य एशियाई देशों से होते हुए किर्गिज गणराज्य की राजधानी पहुंचेगा।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.