Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

New Delhi: रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वी के यादव ने मंगलवार को कहा कि रेलवे दिल्ली-मुंबई और दिल्ली-कोलकाता मार्गों पर 160 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से ट्रेनों के संचालन के लिए 18000 करोड़ रुपये की परियोजना को शुरू करने जा रहे हैं।

एक बार परियोजना शुरू होने के बाद, इसे पूरा होने में कम से कम चार साल लगेंगे।अंतर्राष्ट्रीय रेल सम्मेलन -2019 और 13 वीं अंतर्राष्ट्रीय रेलवे उपकरण प्रदर्शनी का उद्घाटन करने के बाद उन्होंने मीडिया से इस बारे में बात की।

यह कार्यक्रम भारतीय उद्योग परिसंघ (CII) द्वारा एरोसिटी में रेलवे के साथ मिलकर आयोजित किया गया है। रेलवे का लक्ष्य दिल्ली-मुंबई और दिल्ली-कोलकाता मार्गों पर 160 किमी प्रति घंटे की स्पीज से ट्रेन सेवा शुरू करना है।

वर्तमान में, विभिन्न मार्गों पर ट्रेनों की औसत अधिकतम गति 99 किमी प्रति घंटा है। हाल ही में शुरू की गई दिल्ली-वाराणसी वंदे भारत एक्सप्रेस दिल्ली-कानपुर रूट पर 104 किमी प्रति घंटे की औसत गति पर दौड़ती है। 160 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेनों के संचालन के लिए बुनियादी ढांचे में बदलाव लाया जाएगा।

रेल मंत्रालय के अनुसार ट्रैक में सुधार किया जाएगा। इसके साथ-साथ सिग्नलिंग का नवीनीकरण किया जाएगा। इसके अलावा मानव रहित क्रॉसिंग शुरू करने की भी संभावना है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.