Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

बिहार में देर रात हुए एक भीषण सड़क दुर्घटना में सात पुलिसकर्मियों की मौत हो गई। इस हादसे में एक नक्सली कैदी के भी मरने की खबर है। यह हादसा तब हुआ जब एक कैदी वाहन भागलपुर केंद्रीय कारा से कट्टर नक्सली सोहाग पासवान और हेमंत राम को कैदी वाहन से पेशी के लिए सीतामढ़ी लेकर जा रहा था। रात के समय में सीतामढ़ी जिले के रुन्नीसैदपुर थाना क्षेत्र के सीतामढ़ी-मुजज्फरपुर मार्ग पर गायघाट पुल के निकट गिट्टी लदे ट्रक ने कैदी वाहन में टक्कर मार दी। इसमें सात पुलिसकर्मियों और एक नक्सली की मौत हो गई जबकि एक अन्य नक्सली और पांच पुलिसकर्मी घायल हो गए। वाहन में कुल 14 लोग सवार थे। 

रून्नीसैदपुर के थाना प्रभारी रतन कुमार यादव ने इस घटना की जानकारी देते हुए बताया कि इस दुर्घटना में घटनास्थल पर ही एक कैदी और तीन जवानों की मौत हो गई। वहीं चार अन्य जवानों की मौत श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (एसकेएमसीएच) में इलाज के दौरान हो गई।

जवानों की मौत के बाद साथी पुलिसकर्मियों ने अस्पताल में हंगामा मचा दिया। पुलिसकर्मियों का आरोप था कि इलाज़ में लापरवाही बरती गई है। सही से इलाज़ होने पर चार जवानों की जान बच सकती थी। पुलिस वालों के आरोपों से गुस्साए जूनियर डॉक्टरों ने दुर्व्यवहार का आरोप लगा अस्पताल की सभी सेवाएं ठप कर दी और हड़ताल पर चले गए। जिसके बाद सभी घायलों को निजी अस्पताल में भर्ती किया गया है।

सीतामढ़ी जिले के एसपी हरिप्रसाद ने दुर्घटना की बाबत बताया कि कुख्यात नक्सली हेमंत राव और सुहाग पासवान को भागलपुर सेंट्रल जेल से सीतामढ़ी कोर्ट में पेशी के लिए ले जाया जा रहा था। तभी अचानक एनएच-77 पर दूसरी तरफ से आ रही तेज रफ्तार ट्रक ने कैदी वैन को टक्कर मार दी। जिससे यह दर्दनाक हादसा हुआ है। ट्रक को पकड़ लिया गया है और आगे की कारवाई की जा रही है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.