Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

New Delhi: महाराष्ट्र में भाजपा-शिवसेना गठबंधन खतरे में है। उद्धव ठाकरे ने शुक्रवार को प्रेस कॉन्फेंस करके  भाजपा के खिलाफ जमकर बयान दिया है। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है शिवसेना ने भाजपा के साथ गठबंधन करके गलती की है। इसके साथ-साथ उन्होंने कहा कि गंगा को साफ करते-करते भाजपा का दिमाग गंदा हो गया है।

उन्होंने अपने बयान में कहा, “मैंने बालासाहेब से वादा किया था कि एक दिन शिवसेना के मुख्यमंत्री होंगे और मैं उस वादे को पूरा करूंगा। इसके लिए मुझे अमित शाह और देवेंद्र फड़नवीस की जरूरत नहीं है।”

उन्होंने आगे कहा, “यह बहुत दुखद है कि गंगा की सफाई करते समय BJP का दिमाग प्रदूषित हो गया है। मुझे बुरा लगा कि हमने गलत लोगों के साथ गठबंधन किया। हमने चर्चा के लिए दरवाजे कभी बंद नहीं किए हैं। भाजपा ने हमसे झूठ बोला इसलिए हमने उनसे बात नहीं की। हमने अभी तक एनसीपी के साथ बातचीत नहीं की है।”

इससे पहले शुक्रवार को NCP प्रमुख शरद पवार ने शुक्रवार को कहा कि शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी को महाराष्ट्र में सरकार बनाने में देरी नहीं करनी चाहिए। आरपीआई प्रमुख रामदास अठावले से मुलाकात के बाद मीडिया से बात करते हुए पवार ने कहा, “शिवसेना और बीजेपी को जनादेश मिला है और उन्हें सरकार बनानी चाहिए।”

आपको बता दें कि इससे पहले भाजपा और शिवसेना राज्यपाल से मिलने अलग-अलग पहुंचे थे। भाजपा का कहना है कि मुख्यमंत्री पांच साल के लिए फडणवीस ही होंगे। दूसरी तरफ शिवसेना ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद की मांग कर रही है। महाराष्ट्र में 288 विधानसभा सीटों पर 21 अक्टूबर को चुनाव हुआ था। 24 अक्टूबर को वोटों की गिनती हुई। बीजेपी- शिवसेना गठबंधन को बहुमत मिला है। बीजेपी को 105 और शिवसेना को 56 सीटें मिली हैं। कांग्रेस को 44 और एनसीपी को 54 सीटों पर जीत मिली है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.