Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

एक तरफ जहां यूपी में अपराध थमने का नाम नहीं ले रहा वहीं दूसरी ओर मध्य प्रदेश के मंदसौर में किसान और प्रशासन के बीच हिंसक झड़प हो रही है। अब तक पांच किसान मारे जा चुके हैं और कई घायल हैं।

मध्य प्रदेश के मंदसौर में कांग्रेसी नेता भीड़ को भड़काते नजर आ रहे हैं। इसी कड़ी में शिवपुरी से कांग्रेस विधायक शकुंतला खटिक एक वीडियो में लोगों को थाने में आग लगाने के लिए भड़काती दिख रही हैं वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस नेता और रतलाम जिला परिषद के उपाध्यक्ष डीपी धाकड़ भी एक वीडियो में किसानों को हिंसा के लिए भड़काते दिख रहे हैं।

वीडियो में धाकड़ किसानों से कह रहे हैं, ‘अगर एक भी गाड़ी आ जाए, तो उनमें आग लगा देना.. हम देख लेंगे। कोई भी किंतु, परंतु, थाना-पुलिस कोई डरने की जरूरत नहीं है। कल तक मेरी गिरफ्तारी हो जाएगी, तो फिर ये आप सब लोगों की जवाबदारी है।‘ वहीं कांग्रेसी विधायक शकुंतला खटिक लोगों से कहती हैं कि थाने में आग लगा दो। हालांकि पुलिस ने धाकड़ के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया है। बता दें कि इस बयान का नतीजा यह हुआ कि रतलाम के ढेलनपुर गांव में शनिवार को इनके समर्थकों ने कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया। साथ ही इन्होंने पुलिस की भी तीन गाड़ियाँ फूंक दी और इस दौरान पुलिस के दो जवान जख्मी भी हो गए।

कांग्रेस विधायकों के वीडियो आने से पहले भी यह सवाल सोशल मीडिया और अन्य माध्यमों के अलावा स्थानीय सरकारें भी उठा रही है कि कहीं भाजपा की सरकारों में अपराधीकरण की राजनीति तो नहीं हो रही। किंतु अब यह बात खुलकर सामने आने लगी है। मध्य प्रदेश ही नहीं यह शंका उत्तर प्रदेश में भी जताई जा रही है लेकिन अभी तक यूपी में ऐसी कोई बात सामने नहीं आई है।

याद दिला दें कि मध्य प्रदेश के मंदसौर में किसानों के उग्र प्रदर्शन को नियंत्रण करते समय पुलिस ने गोलियां चलाई थी जिससे पांच किसानों की मौत हो गई और कुछ घायल हो गए थे।

यहाँ देखें वीडियो-

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.