Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

लोकसभा में आज समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान तीन तलाक बिल को लेकर बोलने खड़े हुए तो एक नए विवाद में घिर गए। स्पीकर की चेयर पर बैठीं भाजपा सांसद रमा देवी ने आजम से कहा कि वह उनकी ओर देख कर अपनी बात कहें। इस पर आजम ने कहा कि आप मुझे इतनी अच्छी लगती हैं कि मेरा मन करता है कि आपकी आंखों में आंखें डाले रहूं।

आजम के इस बयान पर बीजेपी सांसदों ने आपत्ति जताई और इसके बाद ओम बिड़ला वापस कुर्सी पर बैठे। लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने सख्त मिजाज के साथ कहा कि ऐसा कुछ न बोलें जिससे कार्यवाही से हटना पड़े। यह बात जनता के बीच जाती है, सांसदों को संसदीय गरिमा का ध्यान रखते हुए बोलना चाहिए, जिससे कार्यवाही रोकने की नौबत न आए।

वहीं रविशंकर प्रसाद ने कहा कि आजम को अपने बयान पर माफी मांगनी चाहिए तो आजम ने पलटवार करते हुए कहा कि रमा देवी उनकी बहन जैसी हैं माफी किस बात की। इस पर भाजपा सांसदों ने हंगामा करना शुरू कर दिया।

आजम खान ने कहा कि वह तो मेरी बहन जैसी हैं। मैंने आज तक किसी से अभद्र लहजे में बात नहीं की है। सदन में बैठी किसी भी महिला से मैंने अपमानजनक शब्द का इस्तेमाल किया हो तो मैं इस्तीफा देने को तैयार हूं। इतना कह कर वह सदन छोड़ कर चले गए। हालांकि भाजपा सांसदों उनके जाने के बाद भी हंगामा करते रहे।

वहीं सपा अध्यक्ष और सांसद अखिलेश यादव अपने सांसद आजम खान के बचाव में उतरे। अखिलेश ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि आजम खान ने कुछ आपत्तिजनक कहा। चेयर (आसन) के बारे में बात नहीं की गई है। अखिलेश यहीं नहीं रुके, उन्होंने भाजपा सांसदों को ‘बदतमीज’ कहते हुए पूछा कि भाजपा सांसद उंगली उठाने वाले कौन होते हैं।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.