Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

New Delhi: राष्ट्रीय सांख्यिकी संगठन (NSO) द्वारा जारी आवधिक श्रम बल सर्वेक्षण (PLFS) में 15-29 वर्ष आयु वर्ग में बेरोजगारी सबसे अधिक दर्ज की गई है। यह आंकड़े जनवरी-मार्च 2019 तिमाही के दौरान दर्ज किए गए हैं।

जनवरी-मार्च 2019 में जिस सर्वेक्षण में 15 से 29 वर्ष की आयु वर्ग में 22.5 प्रतिशत बेरोजगारी दर का अनुमान लगाया गया है।

अप्रैल-जून 2018 में एनएसओ द्वारा जारी नवीनतम पीएलएफएस सर्वेक्षण में स्व-नियोजित व्यक्तियों की संख्या भी 38.9 प्रतिशत से घटकर 37.7 प्रतिशत रह गई।

दूसरी ओर कुल शहरी कार्यबल में नियमित वेतन भोगी और वेतनभोगी कर्मचारियों की हिस्सेदारी में मामूली बढ़ोतरी हुई है। यह 48.3 प्रतिशत से बढ़कर 50 प्रतिशत हो गई है।

एनएसओ द्वारा जारी नवीनतम आंकड़ों से यह भी पता चला है कि महिलाओं को नियमित वेतन आय और रोजगार के मामले में पुरुषों की तुलना में बेहतर प्रदर्शन किया।

पिछली चार तिमाहियों के दौरान संगठित क्षेत्र में काम करने वाली वेतनभोगी महिलाओं में पुरुष श्रमिकों के लिए 1.5 प्रतिशत की तुलना में 2.1 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई।

एनएसओ द्वारा किए गए राज्यों के विश्लेषण से पता चलता है कि केरल और जम्मू-कश्मीर में देश में बेरोजगारी की दर सबसे अधिक है जबकि गुजरात और कर्नाटक में बेरोजगारी दर सबसे कम है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.