Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

भारतीय टीम दिन-प्रतिदन नए-नए कीर्तिमान रचती जा रही है। टीम ने इस नए कीर्तिमान के साथ अपने देशवासियों को जनमाष्टमी और स्वतंत्रता दिवस के मौके पर लंकाई धरती पर तिरंगा फहरा पूरे देश को गौरवान्वित भी किया है। जी हां, टीम इंडिया ने श्रीलंका को पल्लेकेले टेस्ट में पारी और 171 रनों से मात देकर तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में श्रीलंका को 3-0 से हराकर एक नया कीर्तिमान स्थापित किया। श्रीलंका की धरती पर भारतीय टीम ने 85 साल बाद तीन टेस्ट सीरीज में क्लीन स्विप कर खिताब जीता है। यह पहली बार है जब विदेशी धरती पर भारतीय टीम ने यह कारनामा किया है।

टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया ने शिखर धवन (119), हार्दिक पंड्या (108) के शतकों और लोकेश राहुल के (85) अर्धशतक की बदौलत अपनी पहली पारी में 487 रन बनाए। इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए श्रीलंकाई पारी को केवल 135 रनों पर समेट दिया।

श्रीलंका फॉलोऑन भी नहीं बचा पाई। फॉलोऑन खेलने उतरी श्रीलंकाई टीम को टीम इंडिया ने दूसरी पारी में 181 रन पर समेट कर पारी और 171 रन से जीत दर्ज कर ली। श्रीलंका की ओर से निरोशन डिकवेला ने 41 और दिनेश चांडीमल ने 36 रनों की पारी खेली। इस मैच में शानदार प्रदर्शन के लिए हार्दिक पांड्या को मैन ऑफ द मैच चुना गया। इस सीरीज में 358 बनाने वाले शिखर धवन को मैन ऑफ द सीरिज से नवाजा गया

जब से विराट कोहली ने कप्तानी संभाली है तब से भारतीय टीम ने 7 टेस्ट मैचों को अपने नाम किया है। वे धोनी को पीछे छोड़कर विदेश में भारत के दूसरे सबसे सफल कप्तान बन गए हैं। भारत पिछले 10 सालों में श्रीलंका से कोई सीरीज नहीं हारा। इन दोनों देशों के बीच अब तक कुल 15 टेस्ट सीरीज खेले गए हैं। इनमें से भारत की यह आठवीं सीरीज जीत है जबकि श्रीलंका के खाते में तीन सीरीज आए हैं, अन्य चार सीरीज ड्रॉ रहे। बता दें कि भारत ने इससे पहले वर्ष 2015 में विराट की कप्तानी में ही 2-1 से सीरीज पर कब्जा जमाया है। कोहली श्रीलंका में 4 टेस्ट जीतने वाले इकलौते विदेशी कप्तान बन गए हैं। इससे पहले भी भारतीय टीम विदेशी धरती पर क्लीन स्वीप की है किंतु कोई भी सीरीज तीन मैचों का नहीं था।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.