Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

धरती के सवर्ग जम्मू-कश्मीर में गुरूवार को आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच हुई मुठभेड़ को लेकर सुरक्षा जांच एजेंसियों ने बड़ा खुलासा किया है। मारे गए आतंकी घाटी को मुबंई की तरह दहलाना चाहते थे।

आतंकवादियों को मुंबई हमले की बरसी पर वैसे ही बड़े हमले को अंजाम देने के लिए भेजा गया था। मारे गए सभी आतंकियों का ताल्लुख जैश-ए- मोहम्मद से था।  इस संबंध में शुक्रवार को प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय बैठक भी हुई है। बैठक में गृहमंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (एनएसए) अजीत डोभाल भी शामिल थे।

पुलिस को आतंकियों के बारे में थी खुफिया जानकारी

खबर के अनुसार सुरक्षाबलों को आतंकियों के बारे में पहल से ही खुफिया जानकारी थी जिसके कारण नगरोटा में सुरक्षा कड़ी की गई और हर नाके पर आने जाने वाले गाड़ियों की जांच शुरू की गई। इस दौरान सुरक्षा बलों ने बान टोल प्लाजा के पास एक नाका लगाया था।

गड़ियों की जांच के दौरान आतंकवादियों के एक समूह ने सुरक्षा बलों पर सुबह 5 बजे फायरिंग शुरू कर दी। फायरिंग के बाद आतंकी जंगल की तरफ भागने लगे। फिर मुठभेड़ शुरू हो गई. सूत्रों ने बताया कि एनकाउंटर में 4 आतंकवादी मारे गए हैं। एनकाउंटर के चलते जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बंद है।

आतंकी घाटी को जलाने का कर रहे थे प्लान

आतंकियों से मुठभेड़ में कुछ पुलिसकर्मियों को भी मामूली चोटें आई हैं। जम्मू के एसएसपी श्रीधर पाटिल भी मामूली रूप से घायल हो गए हैं।

ट्रक के जरिए 3-4 आतंकवादी  जम्मू-श्रीनगर हाईवे से होते हुए कश्मीर जाने के फिराक में थे। इसी दौरान सुरक्षाबलों ने आतंकियो को घेर लिया और फिर एनकाउंटर शुरू हो गया। घटना के कारण जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग के साथ लगे नगरोटा में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है, गाड़ियों की आवाजाही पर पैनी नजर रखी जा रही है।

हथियार हुआ बरामद

ट्रक में कितने आतंकी सवार थे ये अभी तक साफ नहीं हो पाया है। इस बात को लेकर कोई अधिकारिक बयान जारी नहीं किया गया है। ट्रक से भारी मात्रा में हथियार और विस्फोटक भी बरामद किए गए हैं।

जम्मू कश्मीर में 28 नवंबर को डीडीसी के चुनाव होने वाले हैं। ऐसे समय में 4 आतंकियों को हथियार के साथ पकड़ना सुरक्षाबलों के लिए बड़ी कामयाबी मानी जा रही है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.