Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

एनएच 75 पर चक्रधरपुर थाना क्षेत्र के बोड़दा पुल के समीप एक अनियंत्रित कार ने सड़क किनारे खड़े ग्रामीणों को रौंद डाला। हादसे में छह ग्रामीणों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि आठ अन्य लोग घायल हो गए। सभी घायलों को अनुमंडल अस्पताल व रेलवे अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद टीएमएच रेफर कर दिया गया। झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने दुर्घटना में मारे गये लोगों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना जतायी है। उन्होंने उपायुक्त को निर्देश दिये कि घायलों के बेहतर इलाज की व्यवस्था करें।

शनिवार की रात करीब 8:30 बजे जब लोग सड़क के किनारे शादी की रस्म की एक पूजा कर रहे थे तभी चाईबासा की ओर से तेज रफ्तार में लाल रंग की कार तेजी से आ रही थी। इसी क्रम में एक बाइक को टक्कर मारते हुए कार ने सड़क के किनारे खड़े ग्रामीणों को कुचल दिया। हादसे के बाद मौके पर ही ग्रामीणों ने चालक की जमकर पिटाई कर दी। लेकिन वह किसी तरह चंगुल से बचकर निकलने में सफल रहा। सोशल मीडिया में चल रही चर्चाओं के मुताबिक चालक का नाम सौर‌व अग्रवाल बताया जा रहा है।

घायलों में चार लोगों की पहचान मांगरु तामसोय, सुकलाल बानरा, नरेश बानरा व मांडरू हेम्ब्रम के रूप में की गयी है। सभी घायल गोईलकेरा प्रखंड अंतर्गत गुड़ाडूबा गांव के हैं।

कहा जा रहा है कि प्रदीप का बेटा सौर‌व अग्रवाल उर्फ चुनमुन कार ड्राइव कर रहा था। सौरव ने शराब पी रखी थी। बताया जा रहा है कि कार के अंदर बियर और की शराब की बोतलें थीं, जिसे पुलिस ने बरामद कर लिया है। घटना के बाद भाग रहे सौरव को लोगों ने पकड़ लिया और जमकर धुनाई की। बाद में पुलिस उसे लोगों से छुड़ा कर थाने ले आई। प्रदीप विदेश में ही रहता है। इन दिनों छुट्टी में घर आया हुआ था।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.