Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

कोरोना महामारी के दंश के बावजूद बिहार में कुछ ही महीनों में विधान सभा चुनावों के दंगल की शुरुआत होने जा रही है। लेकिन राजनैतिक दलों में खींच तान कुछ ज्यादा ही चल रही है। विधानसभा चुनाव से पहले सत्ताधारी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में रार चल रही है। लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने नीतीश कुमार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। चिराग के तेवर अलग ही संकेत दे रहे हैं, वहीं भारतीय जनता पार्टी का दावा है कि एनडीए के सभी घटक दल साथ मिलकर बिहार के चुनावी रण में उतरेंगे।

एक ताजा घटनाक्रम में आज भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पटना में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की। मुलाकात के बाद आत्मनिर्भर बिहार कार्यक्रम में बोलते हुए नड्डा ने साफ कर दिया कि भाजपा और एलजेपी, नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही विधानसभा चुनाव लड़ेंगे। 

जेपी नड्डा ने बिहार कैसे आत्मनिर्भर बनेगा, इस पर भी चर्चा की। नड्डा ने लीची, मखाना जैसे उत्पादों का भी जिक्र किया और आश्वस्त किया कि पीएम मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार के सहयोग से बिहार आत्मनिर्भरता की राह पर आगे बढ़ेगा। इसी कार्यक्रम के दौरान भाजपा का थीम सॉन्ग भी रिलीज किया गया।

इससे पहले बिहार की राजधानी पटना पहुंचे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री आवास पहुंच कर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की। जेपी नड्डा और नीतीश कुमार के बीच हुई बैठक में सीट बंटवारे को लेकर चर्चा हुई। कहा जा रहा है कि भाजपा 50-50 का फॉर्मूला चाहती है। जेपी नड्डा ने पटन देवी शक्तिपीठ पहुंचकर पूजा-अर्चना भी की।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में भी भाग लिया। जेपी नड्डा ने प्रदेश कार्यालय पहुंचकर श्यामा प्रसाद मुखर्जी और पंडित दीन दयाल उपाध्याय की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और चुनाव संचालन समिति की बैठक को संबोधित किया।

इस बीच विपक्षी दलों में सीटों की संख्या पर सहमति ना बनने , चुनाव प्रचार की रणनीतियों पर असहमति होने की खबरे आ रही हैं। ऐसे में लगता है कि यदि विपक्षियों ने अपनी पिछली भूलों से सबक ना लिया तो, चुनाव नतीजों में उन्हें हाथ मलना पड़ सकता है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.