Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

आम आदमी पार्टी से निलंबित और दिल्ली सरकार से बर्खास्त मंत्री और विधायक कपिल मिश्रा अरविंद केजरीवाल की गले की हड्डी बन गए है। कपिल मिश्रा आम आदमी पार्टी के सारे भ्रष्ट कामों के लिए अरविंद केजरीवाल को निजी तौर पर जिम्मेदार बता रहे हैं। जल मंत्री पद से हटाए जाने के बाद पहले कपिल मिश्रा ने ट्विटर के जरिए अरविंद केजरीवाल को चेतावनी दी फिर उन्होंने अनशन के जरिए केजरीवाल से उनके मंत्रियों के विदेश दौरों की जानकारी मांगी।

अपने अनशन के चौथे दिन कपिल मिश्रा ने हजारों पन्नों के सबूतों के साथ केजरीवाल के भ्रष्टाचारों की पोल खोली और आज उन्होंने सारे दस्तावेज सीबीआई में जमा कराकर शिकायत भी दर्ज कराई है। अरविंद केजरीवाल के खिलाफ एक के बाद एक नए पोल खोलने वाले कपिल मिश्रा ने अब एक और पोल खोलने का दावा कर दिया है। इस बार वह आम आदमी पार्टी के सबसे कारगर काम मोहल्ला क्लिनिक पर ही सवाल खड़े करने वाले हैं। कपिल ने कहा कि मोहल्ला क्लिनिक में भी बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार हुआ है। उन्होंने कहा कि वह जल्द ही मोहल्ला क्लिनिक में हुए 225 करोड़ रुपये के घोटाले का खुलासा करेंगे।

कपिल मिश्रा के खुलासे के बाद आप के नेताओं ने उन्हें बीजेपी का एजेंट बताया और कहा कि बीजेपी उन्हें मोहरा बना कर आम आदमी पार्टी की मान्यता रद्द करवाने की साजिश कर रही है। आप नेताओं के इस आरोप का जवाब देते हुए कपिल मिश्रा ने अपने ट्विटर अकाउंट से एक तस्वीर साझा की जिसमें अरविंद केजरीवाल पीएम मोदी, लालू यादव, सोनिया गांधी और पाकिस्तान के एक प्रवक्ता के साथ दिख रहे हैं। इस तस्वीर पर टिप्पणी करते हुए कपिल मिश्रा ने कहा कि ‘अगर किसी के साथ फोटो आने से कोई उसका एजेंट बन जाता है तो #ArvindKejriwal किसके एजेंट हैं’।

कपिल के खुलासों ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की परेशानी तो बड़ा दी है लेकिन ऐसे में सवाल यह भी उठता है कि जो कपिल मिश्रा कुछ दिनों पहले तक मोहल्ला क्लिनिक जैसी आम आदमी पार्टी की योजनाओं का गुणगान करते रहते थे उनके पास अचानक उन्हीं योजनाओं के भ्रष्टाचार के इतने सारे सबूत कहां से आ गए। बहरहाल जो भी हो लेकिन आम आदमी पार्टी के अन्दर मचे इस कलह का अंत फ़िलहाल नजर नहीं रहा है।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.