होम देश Amit Shah की मौजूदगी में Karbi Anglong Agreement पर हस्ताक्षर

Amit Shah की मौजूदगी में Karbi Anglong Agreement पर हस्ताक्षर

Karbi Anglong Agreement : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah), असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) और कार्बी संगठनों के प्रतिनिधियों की उपस्थिति में Karbi Anglong Agreement पर हस्ताक्षर हुआ। इस समझौते के बाद 5 से अधिक संगठनों के लगभग 1000 विद्रोहियों ने हथियार छोड़ दिए हैं। कार्बी क्षेत्र में विकास करने के लिए असम सरकार 5 वर्षों में लगभग 1000 करोड़ रुपये खर्च करेगी। यह समझौता दिल्‍ली में हुआ।

कार्बी के विकास के लिए 1000 करोड़ रुपये

गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि कार्बी आंगलोंग शांति समझौता (Karbi Anglong Agreement) कार्बी क्षेत्र और असम के इतिहास में सुनहरे शब्दों में लिखा जाएगा। आज 5 से अधिक संगठनों के लगभग 1000 विद्रोही हथियार छोड़कर मुख्यधारा में शामिल हो गए हैं। केंद्र और असम सरकार उनके पुनर्वास के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है। गृह मंत्री अमित शाह ने यह भी कहा कि असम सरकार 5 वर्षों में कार्बी क्षेत्र के विकास के लिए लगभग 1000 करोड़ रुपये खर्च करेगी। नरेंद्र मोदी सरकार की नीति है कि हम अपने कार्यकाल के दौरान ही एक समझौते में किए गए सभी वादों को पूरा करते हैं। 

पहले केे समझौतों की लगभग सभी शर्तें पूरी हुई

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा बोडोलैंड समझौता Bodoland Agreement हो, Bru Agreement या NLFT Agreement सरकार ने 80% से अधिक शर्तों को पूरा किया है। बोडोलैंड समझौते में लगभग सभी शर्तें पूरी की गई हैं। मैं पांच संगठनों और असम के मुख्यमंत्री के प्रतिनिधियों को आश्वासन देता हूं कि हम कार्बी आंगलोंग क्षेत्र में लंबे समय तक शांति और विकास का मार्ग प्रशस्त करते हुए निर्धारित समय सीमा के भीतर समझौते में निर्धारित सभी शर्तों को पूरा करेंगे।

कार्बी आंगलोंग शांति समझौते के दौरान असम से आए प्रतिनिधियों से मिलते गृहमंत्री अमित शाह।

1980 के दशक से साक्रिय है कार्बी के विद्रोही

कार्बी असम का एक प्रमुख जातीय समुदाय है। कार्बी के द्वारा विद्रोह का असम में एक लंबा इतिहास रहा है, यह समूह 1980 के दशक से कई हत्याओं, जातीय हिंसा, अपहरण और कई अपराधों मेंं शामिल है। कार्बी विद्रोह का अलग कार्बी आंगलोंग राज्य और उत्तरी कछार हिल्स (North Cachar Hills) के लिए है।

इंगती कथार सोंगबिजीत ने भी आत्मसमर्पण किया था

इससे पहले राज्य के विधानसभा चुनाव से पहले। असम के Most Wanted नेताओं में से एक और कार्बी आंगलोंग जिले के पांच आतंकवादी संगठनों से संबंधित इंगती कथार सोंगबिजीत (Ingti Kathar Songbijit) जो हिंसा के कई मामलों में आरोपी था। उसने फरवरी में 1039 अन्य विद्रोहियों के साथ गुवाहाटी में एक समारोह में तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के सामने आत्मसमर्पण किया था।

यह भी पढ़ें:

Pakistan के ISI Chief Lt Gen Faiz Hameed अफगानिस्तान पहुंचे

Kisan Mahapanchayat: मुजफ्फरनगर में 5 सितंबर की महापंचायत होगी ऐतिहासिक – Rakesh Tikait

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

T20 World Cup : Scotland ने किया बड़ा उलटफेर, बांग्लादेश को 6 रनों से हराकर सबको चौंकाया

T20 World Cup के दूसरे मैच में ही बड़ा उलटफेर हो गया। इस मैच में Scotland ने Bangladesh को 6 रनों से हराकर मुकाबले को जीत लिया। स्कॉटलैंड की टीम ने बांग्लादेश को हराकर सभी टीमों को सतर्क कर दिया। स्कॉटलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 9 विकेट के नुकसान पर 140 रन बनाए। जवाब में बांग्लादेश की टीम 7 विकेट खोकर 134 रन ही बना सकी। क्रिस ग्रीव्स को हरफनमौला खेल (45 एवं 2/19) के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

Priyanka Gandhi Vadra होंगी UP Congress चुनाव अभियान का चेहरा : P L Punia

प्रियंका गांधी वाड्रा (Priyanka Gandhi Vadra) उत्तर प्रदेश (UP) में कांग्रेस के चुनाव अभियान का चेहरा होंगी, ये बात कांग्रेस नेता पीएल पुनिया (PL Punia) ने आज कहा। पुनिया को अगले साल यूपी चुनावों के लिए कांग्रेस की प्रमुख 20-सदस्यीय चुनाव प्रचार समिति के प्रमुख के रूप में नामित किया गया है,

17 अक्टूबर: देश के कई हिस्सों में भारी बारिश, पढ़ें दिन भर की तमाम बड़ी खबरें

Kerala में भारी बारिश से मची तबाही के कारण कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई है। जानकारी के मुताबिक भारी बारिश की वजह से इडुक्की और कोट्टायम जिलों में कई जगहों पर भूस्खलन हुआ, जिसके कारण यह हादसा हुए। एनडीआरएफ का राहत दल तुफान और बारिश में फंसे लोगों को बचाने में दिन-रात लगी हुई है।

सिंघु बॉर्डर में हुई दलित व्‍यक्ति की मौत पर बसपा प्रमुख Mayawati ने सीबीआई जांच की मांग की, कहा – मामला गंभीर है

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा प्रमुख Mayawati ने सिंघु बॉर्डर (Singhu Border) पर कथित तौर पर निहंग सिख द्वारा की गई एक दलित व्यक्ति मौत की पर सीबीआई जांच की मांग की है।