होम राजनीति Kisan Mahapanchayat: मांगें पूरी नहीं होने तक जारी रहेगा Kisan Andolan, 27...

Kisan Mahapanchayat: मांगें पूरी नहीं होने तक जारी रहेगा Kisan Andolan, 27 सितंबर को भारत बंद का ऐलान

Kisan Mahapanchayat: उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले के जीआईसी (GIC) मैदान में किसान महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) जारी है। महापंचायत को संबोधित करते हुए राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने कहा, ‘जब भारत सरकार हमें बातचीत के लिए आमंत्रित करेगी, हम जाएंगे। जब तक सरकार हमारी मांगें पूरी नहीं करती तब तक किसानों का आंदोलन (Kisan Andolan) जारी रहेगा। आजादी के लिए संघर्ष 90 साल तक चला, इसलिए मुझे नहीं पता कि यह आंदोलन कब तक चलेगा।’ संयुक्त किसान मोर्चा (United Kisan Morcha) ने 27 सितंबर को भारत बंद का ऐलान किया है।

मुजफ्फरनगर मैदान में किसान महापंचायत जारी है। देशभर से सैकड़ों किसानों का जत्था इसमें शामिल हुआ है। महिलाएं भी बढ़-चढ़कर अपनी उपस्थिति दर्ज करवा रही है। महापंचायत के मद्देनजर सुरक्षा को देखते हुए चप्पे-चप्पे पर पुलिसबल तैनात किए गए हैं। संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले किसान कृषि कानूनों के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करने के लिए यहां इकट्ठा हुए हैं। माना जा रहा है कि महापंचायत में यूपी और उत्तराखंड में आगामी विधानसभा चुनाव में बीजेपी को हराने के लिए भी रणनीति बन सकती है। इस महापंचायत में देशभर के 300 से ज्यादा सक्रिय संगठन शामिल हुए हैं।

ये भी पढ़ें- Kisan Mahapanchayat Live Update: राकेश टिकैत ने योगी सरकार पर बोला हमला, कहा-“गन्ने का 1 रुपया भी नहीं बढ़ाया, क्या योगी सरकार कमोजर है ?”

किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए किसान नेता राकेश टिकैत ने पंचायत में सहयोग करने वाले और मीडिया का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि 9 महीने से लाखों लोग दिल्ली को घेरे बैठे हैं। 22 जनवरी से सरकार से हमारी बातचीत बंद है। अब तक हमारे सैकडों किसान शहीद हो गए हैं लेकिन सरकार ने जवाब नहीं दिया।

राकेश टिकैत ने आगे कहा कि देश की संपत्ति को बेचने वालों की पहचान करनी होगी, सिर्फ यूपी और उत्तराखंड ही नहीं पूरे देश में मीटिंग करनी होगी। टिकैत ने बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि रेल, जहाज और हवाईअड्डे बेचे जाएंगे, ये बातें आपके घोषणा में नहीं थी।

साथ ही टिकैत ने संवाददाताओं से कहा कि यह किसानों की ताकत है और कब तक सरकारें हमें हमारे अधिकारों से वंचित करती रहेंगी. किसान अपने दम पर कई राज्यों से आए हैं और वे यहां किसी राजनीतिक दल के लिए नहीं हैं। टिकैत ने कहा कि भारत को अब बिक्री के लिए रखा जा रहा है और राष्ट्रीय संपत्ति निजी क्षेत्र को बेची जा रही है। उन्होंने कहा कि गन्ना किसानों के समर्थन में अगली बैठक लखनऊ में होगी।

ये भी पढ़ें- Kisan Mahapanchayat: मुजफ्फरनगर में 5 सितंबर की महापंचायत होगी ऐतिहासिक – Rakesh Tikait

दंगा करवाने वालों को बर्दाश्‍त नहीं करेगी जनता: राकेश टिकैत

अगर देश में मॉल खुलेंगे तो हमारे मजदूर भाई कहां जाएंगे। ये लड़ाई एमएसपी पर कानून बनने से शुरू हुई है। पूर्ण रूप से फसलों के दाम नहीं तो वोट नहीं। उन्‍होंने कहा कि प्रदेश की जमीन पर दंगा करवाने वाले को यहां की जनता बर्दाश्त नहीं करेंगी। अगर शहीद भी होना पड़ा तो पीछे नही हटेंगे। किसान कृषि कानून वापस कराने के लिए पूरा जोर लगाएगा।

संयुक्त किसान मोर्चा का 27 को भारत बंद

संयुक्त किसान मोर्चा ने 27 सितंबर को भारत बंद का ऐलान किया है। इसके अलावा 9 और 10 सितंबर को लखनऊ में मीटिंग करेगी संयुक्त किसान मोर्चा।

राकेश टिकैत ने कहा कि हम शहीद हो जाएंगे लेकिन मोर्चा डटा रहेगा। हमारा आंदोलन खत्म नहीं होगा। हमें गन्ने का भाव 450 रुपये कुंतल चाहिए। हम गाजीपुर से नहीं उठेंगे। कृषि बिलों की वापसी तक घर नहीं जाएंगे। सरकार को वोट से चोट देनी होगी। इस दौरान टिकैत ने मोदी-शाह को बाहरी बताया। वहीं संयुक्त किसान मोर्चा ने कहा कि 9 और 10 सितंबर को लखनऊ में मोर्चे की बैठक होगी। जीआईसी मैदान में लगभग दो लाख किसान मौजूद हैं।

फसलों के दाम नहीं, तो वोट नहीं

टिकैत ने कहा कि ठेका प्रथा से रोजगार जाएगा, रेहड़ी पटरी वाले बड़ी कंपनियों के आने से बेरोजगार होंगे। ये लड़ाई कृषि कानूनों और MSP की मांग से शुरू हुई थी। हमने सरकार के सामने रामपुर का डाटा रखा था। अगर पूर्ण रूप से फसलों के दाम नहीं मिलेंगे तो वोट भी नहीं मिलेगा। अब इनको वोट की चोट देनी होगी।
राकेश टिकैत ने कहा कि आप सबको 28 जनवरी तारीख की याद होनी चाहिए, उस दिन 148 किसानों के ऊपर हजारों पुलिस वाले थे। उस घटना के बाद पूरा हरियाणा और उत्तर प्रदेश सड़क पर था। हम बिना जीते वापस नहीं आएंगे, चाहे वहां हमारी कब्रें बन जाएं। इस तरह की सरकार बनती है तो दंगे होते हैं, महेंद्र टिकैत के समय में अल्लाह हूं अकबर और भगवान का नारा साथ लगता था।

वरुण गांधी ने की किसानों का दर्द समझने की अपील

वहीं भाजपा नेता वरुण गांधी ने किसानों का दर्द समझने की अपील की है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि ‘मुजफ्फरनगर में आज प्रदर्शन के लिए लाखों किसान जुटे हैं। ये किसान हमारे अपने ही खून हैं। हमें उनके साथ फिर से सम्मानजनक तरीके से जुड़ने की जरूरत है। उनका दर्द समझें, उनका नजरिया देखें और जमीन तक पहुंचने के लिए उनके साथ काम करें।’

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Bigg Boss 15: Shamita Shetty और Vishal Kotian ने तेजस्वी प्रकाश को बताया ‘फर्जी’

Bigg Boss 15: वीकेंड का वार एपिसोड में होस्ट सलमान खान ने 'गलत फहमी के गुब्बारे' गेम खेला। इस सेगमेंट में कंटेस्टेंट्स ने अपनी गलतफहमियों को लेकर एक-दूसरे के गुब्बारे फोड़ दिए। इसी कड़ी में तेजस्वी प्रकाश और शमिता शेट्टी ने भी एक-दूसरे के गुब्बारे फोड़ दिए। उसके बाद तेजस्वी ने बताया कि वह उम्मीद कर रही थीं कि शमिता उन्हें चर्चा का हिस्सा बनाएगी, जिससे वह चिढ़ गईं। दूसरी ओर, तेजस्वी ने कहा कि शमिता यह नहीं समझ पा रही है कि विशाल कोटियन (Vishal Kotian) उसे खेल के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं।

APN Live Updates: प्रधानमंत्री आज आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना का करेंगे शुभारंभ

APN Live Updates: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज आत्मनिर्भर स्वस्थ भारत योजना की शुरुआत करेंगे। उत्तर प्रदेश में वो आज 9 मेडिकल कॉलेज...

T20 World Cup : Pakistan ने India को 10 विकेटों से हराकर रचा इतिहास, Babar Azam और Rizwan Khan की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी

T20 World Cup 2021 के सुपर 12 के चौथे मैच में Pakistan ने Team India को हारकर मुकाबला को जीत लिया। 2007 में टी20 वर्ल्ड कप शुरू होने के बाद पहली बार ऐसा हुआ कि पाकिस्तान ने भारत को शिकस्त दी है। पाकिस्तान ने इस मुकाबले को जीत कर इतिहास रच दिया। टी20 वर्ल्ड कप में लगातार 5 मैच हारने के बाद पाकिस्तान को पहली जीत मिली है। भारत ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 151 रन बनाए। जवाब में लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान ने बिना विकेट गंवाए मुकाबले को 10 विकेटों से जीत लिया।

T20 World Cup : Pakistan ने टॉस जीतकर चुनी गेंदबाजी, भारत को लगे शुरुआती झटके

T20 World Cup 2021 के सुपर 12 का चौथा मुकाबला India और Pakistan के बीच खेला जा रहा है। पाकिस्तान के कप्तान बाबर आज़म ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। दुबई में ग्रुप 2 के मुकाबले में भारतीय टीम 20 ओवर में एक बड़ा स्कोर बनाकर पाकिस्तान के सामने मुश्किल लक्ष्य रखना चाहेगी।