Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

2014 में हुए लोकसभा चुनाव का नतीजा तो हम सभी जानते हैं। उस समय मोदी का क्रेज ना केवल भारत में था, बल्कि अन्य देशों में भी मोदी का जादू सिर चढ़कर बोल रहा था। गौरतलब है कि मोदी सरकार को सत्ता में आए तीन साल से ज्यादा हो गए। इस दौरान मोदी सरकार ने भारतीय जनता पर अपना विश्वास कामय करने के लिए एक से बढ़कर एक कड़े फैसले लिए, जैसे, जनधन योजना के तहत ग्रामीण इलाकों के लोगों का बैंकों में खाता खुलना, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, नोटबंदी, जीएसटी आदि फैसलें शामिल हैं। इनमें से कुछ फैसलों ने खूब वाहवाई लूटी और कुछ फैसलों की जमकर आलोचना हुई।  इन सब के बावजूद भारतीय जनता को आज भी मोदी सरकार पर अटूट विश्वास कायम है। जी हां, सर्वे के मुताबिक, भारत में 85 फीसदी लोग मोदी सरकार पर विश्वासा करते हैं।

प्यू रिसर्च सेंटर ने एक सर्वेक्षण किया, जिसमें बताया गया है कि,85 फीसदी भारतीय जनता अपने सरकार पर भरोसा करती है, दिलचस्प बात यह है कि बहुसंख्यक भारतीय सैन्य शासन और तानाशाही का भी समर्थन करते हैं।

सर्वेक्षण रिपोर्ट में कहा है कि, अपने मजबूत लोकतांत्रिक मूल्यों के लिए पहचाने जाने वाले भारत में 55 फीसदी लोग किसी न किसी तरह से तानाशाही का समर्थन करते हैं। इनमें से 27 फीसदी लोग मजबूत नेता चाहते हैं।

सर्वे के मुताबिक, ‘एशिया पैसिफिक के लोग विशेषज्ञों द्वारा शासन पसंद करते हैं, इनमें विशेषकर वियतनाम (67%), भारत (65%) और फिलिपिंस (62%) है।’

सर्वेक्षण में भारतीय अर्थव्यवस्था पर भी रिपोर्ट तैयार की गयी है। रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत में अर्थव्यवस्था 2012 से 6.9 फीसदी की दर से बढ़ रही है और वहां 85 फीसदी से अधिक लोग अपनी सरकार में विश्वास रखते हैं। सर्वे की मानें तो, वैश्विक स्तर पर 26 फीसदी लोगों ने यह कहा कि ऐसी व्यवस्था शासन के लिए अच्छी होगी, जिसमें मजबूत नेता संसद या अदालतों के दखल के बिना खुद निर्णय ले।

सर्वे में कहा गया है कि 53 प्रतिशत भारतीय और 52 प्रतिशत दक्षिण अफ्रीकी लोग अपने देश के लिए सैन्य शासन को बेहतर मानते हैं। लेकिन इन दोनों ही समाज में बुजुर्ग इस विचार का समर्थन नहीं करते। इनमें वे लोग हैं जिन्होंने लोकतांत्रिक शासन के लिए संघर्ष किया या फिर वे लोकतंत्र के पथ-प्रदर्शकों की अगली पीढ़ी हैं। हालांकि सर्वेक्षण में शामिल 71 फीसदी लोगों ने कहा कि यह शासन के लिए उचित नहीं होगा।

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.