होम ज़रा हटके पर्यावरण

पर्यावरण

नासा: 80 साल बाद पानी में डूब जाएंगे यह 12 तटीय शहर, ग्लोबल वार्मिंग बना कारण

धरती पर लगातार तापमान बढ़ता जा रहा है। ग्लोबल वार्मिंग के कारण ग्लेशियर भी पिघल रहे हैं। पिघलता हुआ ग्लेशियर भारत के...

#WorldLionDay: एक शेर की उम्र होती है 20 साल, 90 फीसदी शिकार करती हैं शेरनियां

यह धरती सिर्फ इंसानों के लिए नहीं बनी है बल्कि हर तरह के जीव जंतूओं का भी पृथ्वी पर हक है। कई...

पानी में सड़कें: दिल्ली वासियों के लिए बारिश बनी आफत, जगह-जगह जलभराव

देश की राजधानी दिल्ली यहां पर 18 जुलाई की रात से ही जोरदार और रुक रुककर बारिश हो रही है। दिल्ली एनसीआर...

प्रकृति के प्रति सीएम योगी का प्यार, 100 साल से अधिक पुराने वृक्ष बनेंगे हेरिटेज ट्री, रोजगार की हुई व्यवस्था

उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हर मुमकिन कोशिश कर रहे हैं। इस दिशा में बढ़ते हुए...

सहारनपुर में अनोखा आम का पेड़, 121 प्रकार की हैं नस्लें, नूरजहां बनीं फलों की रानी

आम को लोग फलों का राजा कहते हैं,मौसम में इस फल को खाना लोग बेहद पसंद करते है। चाहे बच्चे हों या...

सुप्रीम कोर्ट ने स्कोडा, फॉक्सवैगन की याचिका खारिज की

सुप्रीम कोर्ट ने अंतर्राष्ट्रीय कार निर्माता कंपनी स्कोडा फॉक्सवैगन द्वारा दायर की गई याचिका को खारिज कर दिया। इस याचिका में वाहनों...

महादेव के प्रिय ब्रह्मकमल से गुलजार हुआ हिमालय, रुपकुंड ने ओढ़ी सफेद चादर

सुदंर पहाड़, हरियाली, शांति और मंदिरों के लिए जाना जाने वाला उत्तराखंड एक बार फिर से गुलजार है। यहां का रुपकुंड का...

सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील ने ठुकरा दिया 50 लाख रुपये फीस का ऑफर

पिछले 24 साल से सुप्रीम कोर्ट के एमिकस क्यूरी के रूप में काम कर रहे वरिष्ठ...

बाढ़ से बेहाल बिहार, दिल्ली से बिहार जाने वाली कई ट्रेनों के रूट डायवर्ट

बिहार में लगातार हो रही बारिश और बाढ़ के कारण राज्य में बत्तर स्तिथी पैदा हो गई है। कोसी, कमला, बूढ़ी गंडक, लाल बकेया...

भारी बारिश से दिल्ली की सड़कों पर जलभराव, मिंटो रोड पर तैरता मिला टेंपो ड्राइवर का शव

राजधानी दिल्ली में रविवार सुबह मॉनसून ने दस्तक दे दी है और जबरदस्त बरिश से लोगों को उमस भरी गरमी से राहत मिली तो...

264 करोड़ की लागत से बना सत्तरघाट महासेतु पुल ढहा, 30 दिन पहले CM नीतीश ने किया था उद्घाटन

बिहार के गोपालगंज जिले में 264 करोड़ की लागत से बना पुल 29वें दिन ही टूट गया। बताया जा रहा है गंडक में आई...

बीजेपी नेता ने भगवा रंग में रंगवाई गली, विपक्ष ने बताया तानाशाही

उत्तर प्रदेश सरकार में मंत्री नंद गोपाल नंदी ने अपने आसपास के सभी इलाको के घरों को भगवा रंग में रंगवा दिया है, जिसका...

Most Read

T20 World Cup : Pakistan ने India को 10 विकेटों से हराकर रचा इतिहास, Babar Azam और Rizwan Khan की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी

T20 World Cup 2021 के सुपर 12 के चौथे मैच में Pakistan ने Team India को हारकर मुकाबला को जीत लिया। 2007 में टी20 वर्ल्ड कप शुरू होने के बाद पहली बार ऐसा हुआ कि पाकिस्तान ने भारत को शिकस्त दी है। पाकिस्तान ने इस मुकाबले को जीत कर इतिहास रच दिया। टी20 वर्ल्ड कप में लगातार 5 मैच हारने के बाद पाकिस्तान को पहली जीत मिली है। भारत ने पहले खेलते हुए 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 151 रन बनाए। जवाब में लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान ने बिना विकेट गंवाए मुकाबले को 10 विकेटों से जीत लिया।

T20 World Cup : Pakistan ने टॉस जीतकर चुनी गेंदबाजी, भारत को लगे शुरुआती झटके

T20 World Cup 2021 के सुपर 12 का चौथा मुकाबला India और Pakistan के बीच खेला जा रहा है। पाकिस्तान के कप्तान बाबर आज़म ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। दुबई में ग्रुप 2 के मुकाबले में भारतीय टीम 20 ओवर में एक बड़ा स्कोर बनाकर पाकिस्तान के सामने मुश्किल लक्ष्य रखना चाहेगी।

BLOG: ‘सरदार खान’ की भाषा क्यों बोलने लगे हैं कन्हैया कुमार?

मनोज झा ने उस दौर में राजद को चुना जब बिहार की एक बहुत बड़ी आबादी लालू प्रसाद और उनकी पार्टी को अछूत की तरह देखती थी। मीडिया में राजद का हस्तक्षेप या जगह शुन्य के बराबर था। भागलपुर दंगों को लेकर मनोज झा ने जितनी लड़ाई लड़ीं वो बातें पब्लिक डोमेन में है। कन्हैया को भक्त चरण दास की भक्ति से पहले यह भी जानना चाहिए था कि वो जैसे यूनिवर्सिटी के छात्र होने पर गर्व करते हैं, वैसे ही यूनिवर्सिटी में मनोज झा अध्यापक हैं। राजनीति के मैदान में भी दोनों की ही तुलना वैसी ही है।

24 अक्टूबर: Drugs Case में NCB पर लगे गंभीर आरोप, पढ़ें दिन भर की सभी प्रमुख खबरें

APN Live Updates:कांग्रेस पार्टी उस व्यक्ति को अपना सदस्य नहीं बनाएगी, जो शराब या अन्य मादक पदार्थों का सेवन करता हो। सदस्य बनने के लिए इन बुरी आदतों से दूरी बनाए रखना जरूरी है। इसके साथ ही यह हलफनामा भी देना होगा कि वह सार्वजनिक मंचों पर कभी भी पार्टी की नीतियों एवं कार्यक्रमों की आलोचना नहीं करेगा।