होम देश NHRC प्रमुख जस्टिस अरूण मिश्रा ने की गृह मंत्री Amit Shah की...

NHRC प्रमुख जस्टिस अरूण मिश्रा ने की गृह मंत्री Amit Shah की तारीफ, कहा- आपके प्रयासों से जम्मू-कश्मीर में शुरू हुआ नया अध्याय

NHRC के प्रमुख जस्टिस अरुण मिश्रा ने एक कार्यक्रम में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की तारीफ की। दरअसल, एनएचआरसी के कार्यक्रम में जस्टिस मिश्रा ने अमित शाह की तारीफ करते हुए कहा कि आपके प्रयासों से जम्मू-कश्मीर के साथ-साथ उत्तर-पूर्वी राज्यों में शांति का एक नया अध्याय शुरू हुआ है. मुझे आपका स्वागत करते हुए गर्व महसूस हो रहा है।

इसके साथ ही जस्टिस मिश्रा ने यह भी कहा कि वर्तमान समय में भारत मानवाधिकारों की रक्षा के लिए बेहतर काम कर रहा है। हमने कई ऐसी योजनाएं लागू कीं, जो नागरिकों के कल्याण से जुड़ी थीं। हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्था विवादों के शांतिपूर्ण और कानूनी समाधान में विश्वास रखती है।

प्रशांत भूषण ने बताया शर्मनाक

जस्टिस अरुण मिश्रा के द्वारा एक सार्वजनिक कार्यक्रम में गृह मंत्री के तारीफ की जाने-माने वकील प्रशांत भूषण ने कड़ी आलोचना की है। प्रशांतभूषण ने जस्टिस अरुण मिश्रा की टिप्पणी पर नाराजगी जताते हुए उनके व्यवहार को गरीमा के खिलाफ और बेहद शर्मनाक बताया.

उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के जज के रूप में प्रदानमंत्री नरेंद्र मोदी की सार्वजनिक प्रशंसा करने के बाद इस घटना ने एनएचआरसी प्रमुख जस्टिस अरुण मिश्रा के व्यक्तित्व में एक नई गिरावट को दर्शा रहा है। ऐसे में हम किस तकह से मानवाधिकारों की रक्षा में सफल होने की उम्मीद कैसे कर सकते हैं?

जस्टिस अरुण मिश्रा पीएम मोदी की भी कर चुके हैं तारीफ

गौरतलब है कि बीते फरवरी में जस्टिस अरुण मिश्रा ने बतौर सुप्रीम कोर्ट के जज के तौर पर सार्वजनिक रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की थी. जस्टिस मिश्रा ने कहा था कि पीएम मोदी, जिन्हें उनके नेतृत्व के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सराहा गया है, एक दूरदर्शी हैं।

जस्टिस मिक्षा ने आगे कहा कि इनके (पीएम मोदी) नेतृत्व में भारत दुनिया में एक जिम्मेदार और मैत्रीपूर्ण देश के रूप में उभरा है। न्यायिक प्रक्रिया को मजबूत करना समय की मांग है, क्योंकि यह लोकतंत्र की रीढ़ है। विधायिका उसका हृदय है और कार्यपालिका उसका मस्तिष्क। इन सभी अंगों को स्वतंत्र रूप से काम करना होता है। लोकतंत्र सद्भाव में ही सफल होता है।

यह भी पढ़ें: सुप्रीम कोर्ट ने अर्द्धनग्न तस्वीर को लेकर रेहाना फातिमा को बेल देने से किया इनकार

सीबीआई विवाद पर ट्वीट कर फंसे प्रशांत भूषण, सुप्रीम कोर्ट ने तीन हफ्ते में मांगा जवाब

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Chhattisgarh News:’Omicron’ को लेकर स्वास्थ्य मंत्री ने की तैयारियों की समीक्षा, व्यवस्था में सुधार के दिए निर्देश

Chhattisgarh News: स्वास्थ्य मंत्री T. S. Singhdeo ने कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ओमिक्रॉन (Omicron) के खतरे को देखते हुए इसकी तैयारियों को लेकर समीक्षा की है। टी.एस. सिंहदेव ने दूसरे देशों की यात्रा कर छत्तीसगढ़ पहुंचने वालों की स्क्रीनिंग और आवश्यक जांच की पुख्ता व्यवस्था करने के निर्देश दिए हैं और प्रतिदिन सैंपल जांच की संख्या बढ़ाने को कहा है। सिंहदेव ने कोरोना टीकाकरण में तेजी लाने और सभी अस्पतालों में उपकरणों और मशीनों की चौक-चौबंद व्यवस्था रखने को कहा है।

Shivraj सरकार की मंत्री ने कहा, ताबीज से ठीक होगा Corona

मध्य प्रदश की Shivraj सरकार की पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर को बयानवीर माना जाता है। बयानों कारण हमेशा चर्चा में रहने वाली उषा ठाकुर ने अपने ताजा बयान में कहा है कि टंट्‍या भील के ताबीज लोग हर तरह की बीमारियों से ठीक रहते हैं।

Bollywood News Updates: Katrina Kaif की शादी में Salman Khan के परिवार को नहीं किया गया इन्वाइट? पढ़ें Entertainment से जुड़ी सभी खबरें

Bollywood News Updates: बॉलीवुड अभिनेता विक्की कौशल (Vicky Kaushal) और कैटरीना कैफ (Katrina Kaif) अपनी शादी को लेकर लगातार सुर्खियों में बने हुए हैं। दोनों कुछ ही दिन में शादी के बंधन में बंधने वाले हैं। बता दें कि हाल ही में खबर फैली थी कि सलमान खान और उनकी फैमिली राजस्थान में कैटरीना की शादी में शामिल होगी। पर अब India Today की रिपोर्ट के मुताबिक सलमान की बहन अर्पिता ने इन सभी बातों पर विराम लगा दिया है।

CBSE ने परीक्षा में पूछा गुजरात दंगों से जुड़ा सवाल, शिकायत मिलने पर कहा- गलती हो गई

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) का कहना है कि कक्षा 12वीं की समाजशास्त्र परीक्षा के पेपर में गलती से 2002 के गुजरात दंगों से जुड़ा सवाल पूछ लिया गया था। बुधवार को परीक्षा आयोजित की गयी थी। सवाल था, "2002 गुजरात दंगे किस सरकार के कार्यकाल के दौरान हुए?" यह सवाल टर्म 1 प्रश्नपत्र में पूछा गया था।