Want create site? Find Free WordPress Themes and plugins.

नेशनल कांफ्रेस के उपाध्यक्ष उमर अब्दुल्ला ने लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन के कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की बहन प्रियंका वाड्रा के राजनीति में प्रवेश को लेकर दिये गये बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि उन्हें ऐसे बयान उस समय के लिए बचाकर रखने चाहिए जब वह इस उच्च पद पर नहीं रहेंगी। पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्विटर पर लिखा, “मैडम आप लोकसभा अध्यक्ष हैं। आप क्या सतही बयानों को उन दिनों के लिए बचा कर रख सकती हैं जब आप इस उच्च पद पर नहीं रहेंगी।”

महाजन ने गुरुवार को श्रीमती प्रियंका वाड्रा के राजनीति में प्रवेश को लेकर कहा था कि कांग्रेस अध्यक्ष पार्टी को अकेले नहीं चला सकते, इसलिए उन्हें बहन की मदद की जरूरत है। उल्लेखनीय है कि कई सालों से चल रहे कयासों पर विराम देते हुए कांग्रेस ने बुधवार को श्रीमती प्रियंका वाड्रा को पार्टी महासचिव नियुक्त करने के साथ ही पूर्वी उत्तर प्रदेश का पार्टी प्रभारी नियुक्त किया था।

ये भी पढ़ें :प्रियंका को पद देकर राहुल मान गए वह अकेले राजनीति नहीं कर सकते : सुमित्रा महाजन

प्रियंका पर बिहार के मंत्री के बयान की महिला आयोग ने की निंदा
राष्ट्रीय महिला आयोग ने कांग्रेस महासचिव प्रियंका वाड्रा पर बिहार सरकार में मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के नेता विनोद नारायण झा के बयान को आपत्तिजनक करार देते हुए इसकी कड़ी आलोचना की है। आयोग की अध्यक्ष रेखा शर्मा ने शुक्रवार को यहां कहा कि प्रियंका वाड्रा पर की गयी झा की टिप्पणी आपत्तिजनक है और राष्ट्रीय महिला आयोग इसकी कड़ी निंदा करता है। उन्होंने कहा कि जिम्मेदार पदों पर आसीन व्यक्तियों के महिलाओं के संबंध में ऐसे गैरजिम्मेदाराना बयान निदंनीय हैं। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रियंका वाड्रा को पार्टी महासचिव नियुक्त किया है और उन्हें पूर्वी उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी सौंपी है। इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए श्री झा ने विवादित बयान दिया कि कांग्रेस को यह समझना चाहिए कि सुंदर चेहरे पर वोट नहीं मिलते हैं। उन्होंने कहा कि श्रीमती वाड्रा उद्योगपति रॉबर्ट वाड्रा की पत्नी हैं जिनपर भ्रष्टाचार के कई आरोप हैं। वह अभी राजनीति में नौसिखुआ हैं।

-साभार, ईएनसी टाईम्स

Did you find apk for android? You can find new Free Android Games and apps.